Sports

नई दिल्ली : भारत के शीर्ष पहलवान बजरंग पूनिया को 14 सितंबर से कजाखस्तान के नूर-सुल्तान में शुरू होने वाली विश्व चैम्पियनशिप में पुरूष 65 किग्रा फ्रीस्टाइल वर्ग में शीर्ष वरीयता दी गई है। दुनिया के नंबर एक बजरंग चैम्पियनशिप से पहले ट्रेनिंग के लिए रूस में हैं। उन्होंने पिछले सत्र में रजत पदक और 2013 में 60 किग्रा वर्ग में कांस्य पदक जीता था।

बजरंग ने कहा, ‘विदेशी खिलाड़ियों के साथ ट्रेनिंग करने से मुझे पहलवान के तौर पर आगे बढ़ने में मदद मिली। रूस के जार्जिया में कुछ बेहतरीन पहलवानों के साथ अभ्यास करने से मैं अपने प्रतिद्वंद्वियों से और अधिक वाकिफ हो गया हूं।' उन्होंने कहा, ‘इसके अलावा कोच, फिजियो, ट्रेनर और खेल विज्ञान सहयोगी स्टाफ की मेरी टीम से मुझे काफी फायदा मिला है और विश्व चैम्पियनशिप से पहले मेरे अंदर काफी आत्मविश्वास भर दिया है।' दो बार के ओलंपिक पदकधारी सुशील कुमार विश्व चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने वाले एकमात्र भारतीय पहलवान हैं जिन्होंने 2010 में पहला स्थान हासिल किया था। विश्व संचालन संस्था यूनाईटेड विश्व कुश्ती ने सभी पहलवानों के लिये नूर-सुल्तान में ट्रेनिंग शिविर आयोजित किया है ताकि वे परिस्थितियों से सामंजस्य बिठा सकें।

बजरंग ने कहा, ‘इस तरह के बड़े टूर्नामेंट से पहले यह विश्व संस्था की बहुत अच्छी शुरूआत है। सभी पहलवान इस बार विश्व चैम्पियनशिप में ओलंपिक स्थान पर निगाह लगाए होंगे और हालात के अनुकूल होने से उन्हें इस चुनौती में काफी मदद मिलेगी।' महाराष्ट्र के पहलवान राहुल अवारे को 61 किग्रा में दूसरी वरीयता दी गई है जबकि मौजूदा जूनियर विश्व चैम्पियन दीपक पूनिया को 86 किग्रा में चौथी वरीयता मिली है। जूनियर विश्व चैम्पियनशिप में भारत के 18 साल के सूखे को समाप्त करने वाले दीपक ने कहा, ‘मेरी ट्रेनिंग बहुत अच्छी रही और मैं विश्व चैम्पियनशिप में पदार्पण करने के लिये उत्साहित हूं। पिछले महीने विश्व जूनियर चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने के बाद मेरे आत्मविश्वास में काफी बढ़ोतरी हुई और मैं अपना सर्वश्रेष्ठ देने के लिये बेताब हूं।' महिलाओं में भारत की सीमा बिस्ला को 50 किग्रा वर्ग में दूसरी वरीयता दी गई है। यासर दोगू रैंकिंग सीरीज में स्वर्ण पदक से वह विश्व रैंकिंग में तीसरे स्थान पर पहुंचने में सफल रही। 

.
.
.
.
.