Sports

नई दिल्ली : भारत की अपूर्वी चंदेला ने अपनी स्वर्णिम लय जारी रखते हुए जर्मनी के म्यूनिख में चल रहे साल के तीसरे आईएसएसएफ राइफल पिस्टल विश्व कप में रविवार को करीबी मुकाबले में महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में पहला स्थान हासिल किया। जयपुर की इस निशानेबाज ने फाइनल में 251 अंक का स्कोर जुटाया और चीन की वांग लुयाओ से आगे रहीं जिन्होंने 250.8 अंक से रजत पदक हासिल किया। चीन की जु होंग 229.4 अंक से तीसरे स्थान पर रहीं। अपूर्वी और वांग के बीच मुकाबला काफी करीबी रहा जिसमें यह भारतीय महज 0.1 अंक से आगे थीं। अपूर्वी ने अंत में 10.4 अंक से स्वर्ण हासिल किया जबकि वांग 10.3 अंक ही बना सकीं। 

यह अपूर्वी का साल में दूसरा आईएसएसएफ विश्व कप स्वर्ण पदक है, उन्होंने फरवरी में नयी दिल्ली में विश्व रिकार्ड से पहला स्थान हासिल किया था। बीजिंग में दूसरे विश्व कप में वह चौथे स्थान पर रही थीं। यह उनके करियर का चौथा आईएसएसएफ पदक है। एक अन्य भारतीय इलावेनिल वलारिवान भी फाइनल तक पहुंची लेकिन दुर्भाग्यशाली रहीं और पदक से चूककर चौथे स्थान पर रहीं। वह कांस्य पदकधारी से केवल 0.1 अंक से पिछड़ गयीं। क्वालीफाइंग में अपूर्वी ने 633 और इलावेनिल ने 632.7 अंक से शीर्ष दो स्थान से क्वालीफाई किया। अंजुम मोदगिल 11वें स्थान पर रहीं। मनु भाकर 289 अंक से 24वें जबकि चिंकी यादव 276 से 95वें स्थान पर रहीं।

इस दिन दो तोक्यो 2020 ओलंपिक कोटा उपलब्ध थे जो रोमानिया की लौरा जार्जेटा कोमान और हंगरी की इस्टर मेसजारोस के नाम रहे जिन्होंने महिला 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में पांचवें और छठे स्थान हासिल किये। भारत के पास पहले ही पांच कोटा स्थान हैं। अपूर्वी, अंजुम, सौरभ चौधरी, अभिषेक वर्मा और दिव्यांश सिंह पंवार ने कोटे हासिल किए हैं। सोमवार को तीन फाइनल होंगे जिसमें छह तोक्यो कोटे दांव पर होंगे। 

.
.
.
.
.