Sports

चेन्नई : माइक्रोप्लेक्स ग्लोबल एवं योनेक्स सनराइज आल इंडिया जूनियर रैंकिंग बैडमिंटन टूर्नामेंट की मंगलवार से शुरूआत हो रही है और इस टूर्नामेंट में भारत के 1000 से अधिक युवा प्रतिभाएं हिस्सा लेंगी। सभी की निगाहें अंडर-19 गर्ल्स एकल वर्ग में टॉप सीड हासिल करने वाली पुलेला गायत्री गोपीचंद पर हैं। गायत्री राष्ट्रीय कोच गोपीचंद की बेटी हैं और देश की सबसे अच्छी प्रतिभाओं में से एक मानी जा रही हैं।

हैदराबाद निवासी 16 साल की गायत्री ने जूनियर स्तर पर शानदार प्रतिभा और निरंतरता दिखाई है लेकिन राष्ट्रीय खिताब जीतने के लिए वह छत्तीसगढ़ की आकर्षी कश्यप से सावधान होंगी। दोनों खिलाड़ी काफी प्रतिभाशाली हैं और दोनों एशियाई खेलों में भारत के लिए खेल चुकी हैं। इस टूर्नामेंट के माध्यम से चीन में दो महीने बाद होने वाली जूनियर एशियाई बैडमिंटन चैम्पियनशिप के लिए टीम का चयन होना है और ऐसे में दोनों ही खिलाड़ी अपनी श्रेष्ठता साबित करना चाहेंगी। 

मध्य प्रदेश के प्रियांशू रजावत भी इसी स्तर के खिलाड़ी हैं। वह अंडर-19 ब्वाएज कटेगरी में चमकते हुए सितारे हैं। वह यहां टॉप सीड हैं और लगातार सुधार कर रहे हैं। प्रियांशू को जाएंट किलर माना जाता है। इसके अलावा मणिपुर के मैसनाम मीराबा भी खिताब के दावेदार माने जा रहे हैं। चेन्नई के शंकर मुथुस्वामी ने बीते साल एशियाई बैडमिंटन चैम्पियनशिप में कांस्य जीता था और अब वह एक बार फिर इस चैम्पियनशिप में हिस्सा लेने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर अपनी छाप छोड़ना चाहेंगे। साई चरण कोया, सतीष कुमार के और आकाश यादव भी लड़कों के वर्ग में अपनी चमक दिखाने का प्रयास करेंगे। लड़कियों के वर्ग में एकल वर्ग में आकर्षी, मालविका बासोंद और उन्नति बिष्ट को भी खिताब का दावेदार माना जा रहा है।  

इस टूर्नामेंट के लिए 32 लड़कों और इतनी ही लड़कियों को सीधा प्रवेश दिया गया है। साथ ही डबल्स (ब्वाएज, गर्ल्स और मिक्सड) में आठ खिलाड़ियों को प्रवेश मिला है। लड़कों के युगल वर्ग में मंजीत सिंह और डिंकू सिंह को टॉप सीड मिला है जबकि गर्ल्स वर्ग मे त्रेशा जोली और वार्षिनी वीए को टॉप सीड मिला है। मिश्रित युगव में नवनीत बोक्का और साहिथी बांडी को टॉप सीड मिला है। देश के अलग-अलग हिस्सों से 500 से अधिक लड़के और 200 से अधिक लडकियां क्वालीफाईंग राउंड में हिस्सा लेंगी। इन सबका लक्ष्य मुख्य ड्रॉ में जगह बनाना होगा। 

.
.
.
.
.