Sports
कोलकाता, 30 मार्च (भाषा) भारत के दिग्गज फुटबाल खिलाड़ी बाइचुंग भूटिया ने कोविड-19 महामारी के कारण देश भर में हुए 21 दिन के लॉकडाउन में परेशानी का सामना कर रहे सिक्किम के प्रवासी कामगारों को आश्रय देने की घोषणा की।

मंगलवार मध्यरात्रि से बंदी के कारण बड़ी संख्या में असंगठित क्षेत्रों के प्रवासी श्रमिक बुरी तरह से प्रभावित हुए है और अपने घर लौटने के लिए बेताब है।


भूटिया ने पीटीआई से कहा, ‘‘ इस बंदी से बंदी से प्रवासी श्रमिक सबसे ज्यादा प्रभावित हो रहे है। कल बड़ी संख्या में सिक्किम सीमा पर लोग इकट्ठा थे। मेरे पास गंगटोक (लुम्सी, तडोंग) में एक नई इमारत है। इसमें लगभग 100 लोगों रह सकते है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ जिन प्रवासी श्रमिकों के पास रहने के लिए यहां कोई घर नहीं है वह यहां रह सकते है। हम उन्हें कुछ बुनियादी राशन भी प्रदान करेंगे। मैं स्थानीय अधिकारियों के साथ भी काम कर रहा हूं ताकि यह पता चल सके की हम एक साथ मिलकर कैसे काम कर सकते है। ’’

पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा, ‘‘ राज्य में कोरोना वायरस का एक भी मामला सामने नहीं आया है। ऐसे में वे (प्रवासी श्रमिक) कोरोना वायरस से सुरक्षित है। हम सरकार से गुजारिश कर रहे है। वे कम से कम घर के अंदर इस बीमारी से सुरक्षित रहेंगे। वे इससे बुरी तरह से प्रभावित है लेकिन उन्हें कही जाने की जरूरत नहीं।’’


भूटिया ने अपने फेसबुक पेज पर भी इस जानकारी को साझा करते हुए अपने क्लब यूनाइटेड सिक्किम के वरिष्ठ प्रबंधक अर्जुन राय का नंबर भी साझा किया
उन्होंने कहा, ‘‘ इस मामले में मदद के लिए उनसे 9434117465 नंबर पर संपर्क किया जा सकता है।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।
.
.
.
.
.