Sports
नयी दिल्ली, 10 अक्टूबर (भाषा) रिकी पोंटिंग से ‘परफेक्ट पूल शॉट ’ खेलना सीखना शिमरोन हेटमायेर का सपना था जो इंडियन प्रीमियर लीग के मौजूदा सत्र में दिल्ली कैपिटल्स के साथ वह पूरा कर रहे हैं ।

मध्यक्रम के इस आक्रामक बल्लेबाज ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ 24 गेंद में 45 रन बनाकर फार्म में वापसी की । उन्होंने पारी में पांच छक्के लगाये जिनमें से पहला शानदार पूल शॉट था ।
उन्होंने पीटीआई से बातचीत में कहा ,‘‘ रिकी के साथ सीखना काफी रोचक है । वह फिलहाल मेरे पूल शॉट पर काम कर रहे हैं । पिछले कुछ मैचों में उन्होंने देखा कि मुझे शार्ट गेंद डाली जा रही है । वह मेरे इस शॉट पर काफी मेहनत कर रहे हैं ।’’
उन्होंने कहा ,‘‘ वह सिखा रहे हैं कि मैच फिनिश कैसे किया जाता है और मैं धीरे धीरे सीख रहा हूं ।’’
हेटमायेर को जरूरत के अनुसार पांचवें या छठे नंबर पर भेजा जाता है और उन्होंने कहा कि हर मैच के साथ वह खुद को इसके अनुरूप ढाल रहे हैं ।
उन्होंने कहा ,‘‘ मैं इसका आदी नहीं था । मैच दर मैच सीख रहा हूं । मैंने यह तय कर लिया है कि हर मैच में कम से कम एक छक्का लगाना है । उसी पर काम कर रहा हूं ।’’
जूनियर विश्व कप विजेता रह चुके हेटमायेर जल्दी ही 24 वर्ष के होने जा रहे हैं । क्या वह खुद को वेस्टइंडीज के भावी कप्तान के रूप में देखते हैं, यह पूछने पर उन्होंने कहा ,‘‘ मैं इसके बारे में उतना नहीं सोचता । लेकिन कहीं ना कहीं तो यह दिमाग में हमेशा रहेगा । मैं हर दिन उठता हूं तो अपना खेल बेहतर करने के बारे में ही सोचता हूं ।’’
‘बायो बबल’ में रहना उनके लिये थोड़ा मुश्किल है हालांकि दिल्ली टीम में ऋषभ पंत, तेज गेंदबाज कैगिसो रबाडा, कप्तान श्रेयस अय्यर, सलामी बल्लेबाज पृथ्वी साव सभी युवा ही हैं ।

हेटमायेर ने कहा ,‘‘ यह निजी तौर पर मुझे कठिन लग रहा है ।मुझे बाहर घूमने , शॉपिंग वगैरह की आदत है । लेकिन युवा टीम में होने और अच्छे दोस्त आसपास होने से मदद मिल रही है । हम सभी एक ही आयुवर्ग के हैं जिससे मदद मिल रही है ।’’


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।
.
.
.
.
.