Sports

नई दिल्ली : भारतीय महिला पहलवानों ने इटली की ससारी सिटी में चल रही ससारी सिटी मातियो पेलिकोन मेमोरियल वर्ल्ड रैकिंग सीरीज़ कुश्ती प्रतियोगिता में शानदार प्रदर्शन करते हुए एक स्वर्ण, दो रजत और एक कांस्य पदक जीत लिया। सीमा ने 50 किग्रा वर्ग में स्वर्ण पदक जीता जबकि पूजा ढांडा ने 57 किग्रा में रजत और मंजू कुमारी ने 59 किग्रा में रजत पदक जीता। दिव्या काकरान ने 68 किग्रा में कांस्य पदक हासिल किया लेकिन ओलंपिक पदक विजेता साक्षी मलिक को 62 किग्रा के क्वालिफिकेशन में हार का सामना करना पड़ा।

इससे पहले ग्रीको रोमन वर्ग में गुरप्रीत सिंह ने 82 किग्रा में स्वर्ण पदक और ज्ञानेंद्र ने 60 किग्रा वर्ग में कांस्य पदक हासिल किया। गुरप्रीत ने फाइनल में तुर्की के बुरहान अकबुदाक को 14-4 से पराजित कर स्वर्ण जीता। ज्ञानेंद्र ने रोमानिया के फ्लोरिन टिटा को 9-0 से हरा कांस्य जीता। हरप्रीत को 87 किग्रा के कांस्य पदक मुकाबले में हंगरी के एरिक जिलवैसी से 0-8 से हार का सामना करना पड़ा। महिला वर्ग में भारतीय पहलवान सीमा ने गज़ब का प्रदर्शन करते हुये देश को स्वर्ण पदक दिलाया। सीमा ने रूस की डारिया लेक्सिना को एकतरफा अंदाज़ में 10-0 से हराया। इस मुकाबले के दौरान सीमा ने विपक्षी पहलवान को पांच टैकडाउन स्कोर के बाद मैच को जल्द निपटा दिया।

सीमा ने इस स्वर्ण से अपनी रैंकिंग में सुधार किया है जो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने में मददगार साबित होगा। 57 किग्रा के फाइनल में पूजा को नॉर्वे की ग्रेस जैकब बुलेन ने 5-0 से हराया। 59 किग्रा में मंजू को कनाडा की लिंडा मोरेस ने 9-0 से पराजित किया। पूजा और मंजू को रजत से संतोष करना पड़ा। दिव्या काकरान ने 68 किग्रा के कांस्य पदक मुकाबले में कजाखिस्तान की इरिना काजयूलिना को 10-5 से पराजित किया।  62 किग्रा में ओलंपिक कांस्य पदक विजेता साक्षी ने निराश किया और वह क्वालिफिकेशन में अमेरिका की पहलवान मैलोरी मैक्सिन से हार गई। अमेरिकी पहलवान को सेमीफाइनल में हार का सामना करना पड़ा जिससे साक्षी की कांस्य पदक के लिए रेपचेज़ में उतरने की उम्मीदें टूट गयीं। 

.
.
.
.
.