Sports


स्पोर्ट्स डेस्क: पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने भारत और पाक सीरीज को लेकर एक बार फिर अपने यूट्यूब चैनल पर बोला है। अख्तर ने कहा मैंने भारत और पाकिस्तान का कबड़्डी मैच देखा होगा। मेरे दिमाग में ख्याल आ रहे थे कि हम एक दूसरे के आलू-प्याज खा सकते हैं व्यापार कर सकते हैं, कबड़्डी खेल सकते हैं, डेविस कप खेल सकते हैं तो फिर क्या मौत पड़ जाती है कि हम क्रिकेट नहीं खेल सकते।

PunjabKesari

अगर भारत पाकिस्तान में नहीं खेल सकता और पाकिस्तान भारत में नहीं खेल सकता लेकिन एशिया कप आप दुबई में खेल सकते हो तो फिर द्विपक्षीय सीरीज भी किसी न्यूट्रल जगह पर खेली जा सकती है। मुझे समझ में नहीं आती कि हमारे संबंध ठीक नहीं है तो हम न्यूट्रल जगह पर क्यों नहीं खेल सकते। अगर भारत नहीं खेलना चाहता तो कबड़्डी भी न खेलें, व्यापार भी न करें। लेकिन जब भी क्रिकेट की बात आती है तो इसमें सियासत आ जाती है और कोई न कोई समस्या सामने आ जाती है। 

PunjabKesari

भारत और पाक के बीच सीरीज होनी चाहिए क्यों कि यहां से रेवेन्यू आता है, फैंस आते हैं और मुकाबला बना रहता है जिसकी वजह से प्रेशर बढता है और हमें नए क्रिकेटर्स देखने को मिलतें हैं। उस प्रेशर से कई खिलाड़ी बनते भी हैं और बिगड़ते भी हैं। हाल ही में भारत की कबड्डी टीम पाकिस्तान आई हमने उन्हें प्यार दिया। वे यहां खेले और बाबा गुरू नानक देव जी के गुरूद्वारा साहिब में माथा भी टेका। मैं फिर भी कहता हूं कि आप पाकिस्तान में आइए क्रिकेट खेलिए क्योंकि पाकिस्तान अब सुरक्षित देश है। अगर पाकिस्तान में नहीं खेलना चाहते तो किसी दूसरी जगह पर खेल लें। 

PunjabKesari

भारत दुनिया की बेहतरीन टीम है लेकिन पाक टीम भी बेहतर खेल दिखा रही है। उन्होंने हाल ही में श्रीलंका और बांग्लादेश को घरेलू सरजमीं पर उनका फैंटा लगाया और जल्द ही टेस्ट की नंबर वन टीम बन जाएगी। टी20 विश्व कप ऑस्ट्रेलिया में होने जा रहा हम इतना समय क्यों ले रहें हैं। एक न्यूट्रल जगह पर दोनों टीमें खेलें इसे भारत और पाक दोनों देशों के लोग देखना चाहते हैं और इससे क्रिकेट आगे बढ़ेगी।

PunjabKesari

आप सचिन, सहवाग और गांगुली से जाकर पूछे हम उन्हें कितना प्यार करते हैं लेकिन मैं फिर कहना चाहता हूं कि इतने ही मतभेद रखो जिसमें हम क्रिकेट खेल सकें। मैं किसी के पक्ष में बात नहीं करता हूं चाहे वह भारत हो, पाकिस्तान और चाहे वह बांग्लादेश हो मैं नफरत पर बात नहीं कर सकता। जिस तरह आम लोग हमारे साथ रहते हैं उस तरह रहो आप दोनों ही टीमें एक दूसरे को कड़ टक्कर देती हैं हमने भारत को चैंपियंस ट्रॉफी में फैंटा लगाया और उन्होंने हमारा विश्वकप में,ये फैंटा लगते रहना चाहिए इससे क्रिकेट सुधरेगी। 

.
.
.
.
.