Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : इंग्लैंड दौरा पाकिस्तान टीम के लिए बेहद ही निराशाजनक रहा। पाकिस्तान की टीम को टी20 और उसके वनडे फॉर्मेट में हार झेलनी पड़ी। पाकिस्तान की पूरी टीम इस दौरे पर संघर्ष करती हुई दिखाई दी। इसी पर पाकिस्तान टीम के कप्तान पूर्व कप्तान और स्विंग के सुल्तान के नाम से मशहूर वसीम अकरम ने इस हार पर अपना बयान दिया है। वसीम अकरम ने कहा कि पाकिस्तान की टीम को मजबूत टीम के खिलाफ प्रतिस्पर्धाक क्रिकेट खेलनी चाहिए।

वसीम अकरम ने कहा कि मैं उस शख्स से मिलना चाहता हूं जो जिम्बाब्वे का दौरा आयोजित करवाता है। मैं उसे अधिक पैसे देना चाहता हूं और कहना चाहता हूं कि आप ने बहुत ही अच्छा काम किया है। इससे हमें कोई फायदा नहीं हो रहा। यह सिर्फ उन्हें ही फायदा पहुंचा रहा है। अगर चार साल में एकाध बार दौरा करें तो यह ठीक है।

वसीम अकरम ने आगे कहा कि अगर आप भारत से तुलना करते हैं तो उनकी एक टीम श्रीलंका में खेल रही है और दूसरी टीम इंग्लैंड में टेस्ट मैचों की तैयारी कर रही है। इतना ही नहीं वह एक और टीम खड़ी कर सकते हैं। उन्होंने पिछले 10 साल से अपने क्रिकेट सिस्टम को मजबूत किया है। उन्हें क्रिकेट में पहले रूपए निवेश किया और फिर प्रोफैशनल्स को लेकर आए। 


 
उन्होंने आगे कहा कि मेरे पाकिस्तानी भाईयो, मैं पढ़े-लिखे लोगों के बारे में बात कर रहा हूं। यह 21वीं सदी है। सेलेक्शन से पहले मुझे कॉल्स आती हैं इस खिलाड़ी को चुन लो, इस खिलाड़ी को चुन लो। यह बहुत ही अलग चीज है। अगर आप चाहते हैं कि कोई किसी खिलाड़ी को देखे, लेकिन उस व्यक्ति को चुनने के लिए कहना शर्मनाक बात है।

.
.
.
.
.