Sports

नई दिल्ली: भारत की पदक की दावेदार विनेश फोगाट ने बुधवार को कहा कि तोक्यो ओलंपिक का स्थगित होना उनका ‘सबसे बुरा सपना' था और आगे का लंबा इंतजार इन खेलों में भाग लेने से अधिक कड़ा होगा। कोविड-19 महामारी के कारण तोक्यो ओलंपिक 2020 को अगले साल तक स्थगित कर दिया गया है और जब विनेश को इसका पता चला तो वह निराशा में डूब गई। 

विनेश ने ट्विटर पर जारी बयान में कहा, ‘यह किसी भी खिलाड़ी का सबसे बुरा सपना होता है और यह सच साबित हुआ। सभी जानते हैं कि ओलंपिक में खेलना एक खिलाड़ी के लिये सबसे मुश्किल चुनौती होती है लेकिन अब इस स्तर पर मौके का इंतजार करना उससे भी कड़ा है।' उन्होंने कहा, ‘मैं वास्तव में नहीं जानती कि अभी क्या कहना है लेकिन मेरे अंदर भावनाओं का ज्वार उमड़ रहा है।' 

रियो ओलंपिक से चोट के कारण जल्दी बाहर हुई विनेश भारत की पदक उम्मीदों में से है। उसने पिछले साल विश्व चैम्पियनशिप में पदक जीतकर तोक्यो ओलंपिक के लिये क्वालीफाई किया था। उन्होंने कहा, ‘दुनिया के लिये यह कठिन समय है । मैं भी निराश हूं लेकिन हमें निराशा में ही आशा की किरण तलाशनी होगी।' 

.
.
.
.
.