Sports

नई दिल्ली : भारतीय महिला हॉकी टीम की मिडफील्डर सलीमा टेटे ने कहा कि टोक्यो ओलिम्पिक में शानदार प्रदर्शन से टीम का आत्मविश्वास काफी बढा है और इससे भविष्य में बेहतर प्रदर्शन में मदद मिलेगी। भारतीय महिला हॉकी टीम अपेक्षा से बेहतर प्रदर्शन करते हुए टोक्यो ओलिम्पिक में चौथे स्थान पर रही। टेटे ने कहा कि अब टोक्यो में हमारे प्रदर्शन का प्रभाव देखने को मिल रहा है। कांस्य पदक के मैच में ब्रिटेन से हारने के बाद हम दुखी थे लेकिन हमें अब पता चल रहा है कि टूर्नामेंट से कितनी सकारात्मक बातें निकली।

टेटे ने कहा कि हमने भले ही पदक नहीं जीता लेकिन काफी आत्मविश्वास पाया और इससे एक टीम के रूप में अच्छे प्रदर्शन में मदद मिलेगी। टोक्यो में बेहतरीन प्रदर्शन में मदद करने वाली सबसे अहम बात के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा कि हमने गोल करने के कई मौके बनाए और पेनल्टी कॉर्नर तब्दील किए। हमने अपना सब कुछ मैदान पर झोंक दिया और हार नहीं मानी। हर परिस्थिति में जुझारूपन बनाए रखा।

उन्नीस वर्ष की टेटे ने कहा कि वह खुशकिस्मत हैं कि इतनी कम उम्र में उन्हें ओलिम्पिक खेलने का मौका मिला । उन्होंने कहा कि काफी दबाव वाले मैच खेलकर मंैने बहुत कुछ सीखा है जिसका फायदा आने वाली स्पर्धाओं में मिलेगा।

.
.
.
.
.