Sports

टोक्यो : भारतीय निशानेबाज राहुल जाखड़ गुरूवार को यहां पैरालंपिक खेलों की पी3 मिश्रित 25 मीटर पिस्टल एसएच1 स्पर्धा में पांचवें स्थान पर रहे। पैंतीस साल के जाखड़ फाइनल्स में सातवीं सीरीज खत्म होने के बाद बाहर हो गए। उन्होंने क्वालीफाइंग में 576 के स्कोर से दूसरे स्थान पर रहकर फाइनल्स के लिये क्वालीफाई किया था जिसमें प्रिसिजन में 284 और रैपिड चरण में 292 अंक थे। यह अभी तक उनका सर्वश्रेष्ठ अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शन है। 

एसएच1 पिस्टल स्पर्धा में निशानेबाजों की रीढ़ की हड्डी में चोट या फिर हाथ या पैर के काटे जाने के कारण एक हाथ या पैरों में विकार होता है। अन्य भारतीयों में आकाश क्वालीफिकेशन में 551 (प्रिसिजन में 278 और रैपिड में 273) के अंक से 20वें स्थान पर रहने के कारण फाइनल के लिये क्वालीफाई नहीं कर सके। मिश्रित स्पर्धा में पुरूष और महिला दोनों निशानेबाज हिस्सा लेते हैं जिसमें से शीर्ष आठ फाइनल के लिये क्वालीफाई करते हैं। 

चीन के जिंग हुआंग ने फाइनल्स में 27 के पैरालंपिक रिकार्ड स्कोर से स्वर्ण पदक अपने नाम किया। उनके नाम 36 के स्कोर से विश्व रिकार्ड भी है जो उन्होंने इस स्पर्धा में 2018 में बनाया था। पोलैंड के सिजमोन सोविंस्की ने 21 के स्कोर से रजत और यूक्रेन के ओलेक्सी डेनयुसियूक ने 20 के स्कोर से कांस्य पदक जीता। भारत ने अब तक निशानेबाजी में दो पदक जीते हैं। पहला अवनि लेखरा ने महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल एसएच1 स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतकर हासिल किया। इसके बाद सिंहराज अडाना ने पुरूषों की 10 मीटर एयर पिस्टल एसएच1 स्पर्धा में कांस्य पदक जीता। 

.
.
.
.
.