Sports

खेल डैस्क : पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब मलिक के भतीजे मोहम्मद हुरैरा ने कायदे-ए-आजम ट्रॉफी में सोमवार को तिहरा शतक लगाकर देश के दूसरे सबसे युवा क्रिकेटर बन गए। हुरैरा ने 341 गेंदों में नाबाद 311 रनों की पारी खेली। उन्होंने पारी के दौरान 40 चौके और 4 छक्के भी लगाए। उन्होंने यह शानदार प्रदर्शन कराची में बलूचिस्तान की टीम के खिलाफ खेलते हुए बनाया। अपना पहला प्रथम श्रेणी सीजन खेलते हुए, उन्होंने 19 साल और 239 दिन की छोटी उम्र में तिहरा शतक बनाया। पाकिस्तान के प्रथम श्रेणी इतिहास में हुरैरा 300 रन के आंकड़े तक पहुंचने वाले आठवें खिलाड़ी हैं। यह पाकिस्तान की धरती पर 23वां तिहरा शतक भी है।

Shoaib Malik, Nephew, Mohammad Huraira, Triple Century, Big Record, cricket news in hindi, sports news, मोहम्मद हुरैरा, शोएब मलिक

पाकिस्तान में तिहरा शतक लगाने वालों में माइक ब्रियर्ली, मार्क टेलर और वीरेंद्र सहवाग का भी नाम है। हुरैरा अपने चाचा शोएब मलिक को अपनी  प्रेरणा मानते हैं। उन्होंने कहा कि मैं बहुत भाग्यशाली हूं कि शोएब मलिक मेरे चाचा हैं, क्योंकि वह हमेशा मेरे लिए प्रेरणा रहे हैं। उन्होंने हमेशा मुझे हार न मानने और कड़ी मेहनत जारी रखने के लिए प्रोत्साहित किया। क्रिकेट में सफलता का कोई शॉर्टकट नहीं होता।

Shoaib Malik, Nephew, Mohammad Huraira, Triple Century, Big Record, cricket news in hindi, sports news, मोहम्मद हुरैरा, शोएब मलिक

आदर्श प्लेयरों की बात करते मोहम्मद हुरैरा ने कहा कि वह केन विलियमसन को उनके तकनीकी और सामरिक कौशल के लिए आदर्श मानते हैं। इसी तरह विराट कोहली की भी प्रशंसा करते हैं क्योंकि वह विकेट के चारों ओर समान सटीकता के साथ खेल सकते हैं। हुरैरा ने कहा कि यह कुछ ऐसा है जिससे मैं करना चाहता हूं, या करने की कोशिश करता हूं। इसके अलावाबाबर आजम एक और बल्लेबाज है जिसे मैं देखना पसंद करता हूं क्योंकि उसका स्वभाव बहुत अच्छा है। उसका शॉट चयन अद्भुत है।

.
.
.
.
.