Sports

अहमदाबाद : ऑस्ट्रलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली एक कार्यक्रम के दौरान हिन्दी शब्दों और वाक्यांशों के सामयिक और मनोरंजक इस्तेमाल से दर्शकों को भौचक्का कर दिया। 42 वर्षीय ली, जिन्होंने भारत में खासा समय बिताया है, ने यहां बी जे मेडिकल कॉलेज में एक कार्यक्रम में अपने संबोधन तथा दर्शकों के साथ संवाद के दौरान हिन्दी शब्दों का चतुराई भरा इस्तेमाल कर लोगों का भरपूर मनोरंजन किया और कई बार उन्हें हक्का-बक्का तक कर दिया। लोगों ने भी खूब तालियां बजा कर उनके हिन्दी ज्ञान की सराहना की। कार्यक्रम में तब सबसे ज्यादा तालियं पिटी जब ब्रेट ली ने एक गोरे व्यक्ति को कार्यक्रम में देखकर बोला- यह फिरंगी है।

ली से जब एक दर्शक ने पूछा कि किस भारतीय खिलाड़ी से उन्हें डर लगता था तो उन्होंने जवाब देने से पहले हिन्दी में कहा, ‘आराम से, आराम से’। उन्होंने वहां आये एक छोटे बच्चे का भी हिन्दी में अभिवादन किया और कहा कि उन्हें गुजराती तो नहीं आती पर हिन्दी ‘थोड़ी-थोड़ी’ आती है। पूरा कार्यक्रम स्थल हंसी के ठहाकों से उस वक्त गूंज उठा जब ली ने कहा कि वह चाहते हैं कि उनसे अंतिम सवाल पिछली पंक्ति से कोई ‘सुंदर-सी लरकी (लड़की)’ पूछे और जब एक लड़के ने ऐसा करना शुरू किया तो उन्होंने कहा, ‘ओह ये तो लरका (लड़का) है। उन्होंने ‘खुशी हुई और जीतेगा इंडिया’ जैसे शब्दों का भी प्रयोग किया।

.
.
.
.
.