Sports

नई दिल्ली : कर्णी सिंह निशानेबाजी परिसर में भारतीय डबल ट्रैप टीम के सदस्य रहे बाबर खान और योगिंदर पाल सिंह के बीच बहस इतनी बढ़ गई कि दोनों हाथापाई पर उतर आए। मामले की एक वीडियो वायरल होते ही भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) ने तुरंत फैसला लेते हुए दोनों निशानेबाजों की सदस्यता रद्द कर दी है। इसके साथ ही राष्ट्रीय राइफल निशानेबाजी संघ (एनआइएआई) ने एथलीट आयोग से इस मामले की जांच करने को कहा है।

दूसरे निशानेबाजों और कोचों ने स्थिति संभाली

बताया जा रहा है कि दोनों शूटर निशानेबाजी दौर के निर्धारण को लेकर आमने-सामने हो गए थे। एनआएआई ने अनुशासन का उल्लंघन होने पर निशानेबाजों के खिलाफ कार्रवाई करने का फैसला किया। एनआरएआई के एक अधिकारी ने कहा कि एनआरएआई ने इस मामले को एथलीट आयोग के पास भेजा है और इसकी जांच करने के लिए कहा है।

‘भुगतान करो और खेलो’ योजना की सदस्यता रद्द

साइ ने ‘भुगतान करो और खेलो’ योजना की सदस्यता को रद्द कर दिया है। दोनों निशानेबाजों में हाथापाई होने के बाद वहां मौजूद दूसरे निशानेबाजों और कोचों ने दोनों खिलाडिय़ों को रोककर स्थिति को नियंत्रण में किया। कर्णी सिंह निशानेबाजी परिसर साइ की संपत्ति है और निशानेबाज यहां भुगतान करो और खेलो (पे एंड प्ले) योजना का लाभ उठा सकते हैं। एनआरएआई के एथलीट आयोग के अध्यक्ष मोराद अली खान है जबकि अशोक मित्तल, विक्रम भटनागर, अनुजा जंग और सोनिया राय इसके सदस्य हैं।

.
.
.
.
.