Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : कर्नाटक प्रीमियर लीग में पिछले कुछ समय फिक्सिंग के कारण सुर्खियों में हैं। अब रॉबिन उथप्पा की अगुवाई वाली बेंगलुरु ब्लास्टर्स के विकेटकीपर-बल्लेबाज एम विश्वनाथन और बेंगलुरु ब्लास्टर्स के गेंदबाजी कोच वीनू प्रसाद को सट्टेबाजी के आरोप में बेंगलुरु क्राइम ब्रांच यूनिट ने गिरफ्तार किया है। जानकारी के मुताबिक विश्वनाथन और कोच वीनू 2018 केपीएल सीजन में सट्टेबाजी में शामिल थे। जहां कोच वीनू ने 2008 सीजन में कर्नाटक की ओर से फर्स्ट क्लास क्रिकेट खेलना शुरु किया था। वहीं विश्वानाथन पिछले 20 सालों से क्लब सर्किट में सक्रिय हैं। 

विश्वानाथन पर है ये आरोप 

बेंगलुरु ब्लास्टर्स के लिए खेलने वाले विश्वानाथन पर आरोप है कि 2018 केपीएल सीजन में विश्वानाथन को धीमी बल्लेबाजी करने के लिए बुकीज ने पांच लाख रुपए दिए थे। हालांकि उक्त मैच के स्कोरबोर्ड पर नजर डाले तो कहानी कुछ और ही सामने आती है जिसमें विश्वानाथन ने 26 गेंदों पर 46 रन बनाए थे। वहीं इस दौरान बेंगलुरु ब्लास्टर्स ने 67 रनों से जीत दर्ज की थी। 

वीनू के बारे में नहीं दी ज्यादा जानकारी 

जॉइंट पुलिस कमिश्नर संदीप पाटिल के हवाले से कहा गया है कि इस मामले में जांच जारी है और कई बुकीज को गिरफ्तार किया गया है। मैच में सट्टेबाजी को लेकर वीनू प्रसाद पर ज्यादा जानकारी नहीं दी गई है। वीनू खिलाड़ियों और स्पोर्ट्स स्टाफ में से गिरफ्तार होने वाले पहले हैं। इससे पहले क्राइम ब्रांच मशहूर ड्रमर भवनेश बाफना और बेलगावी पैंथर्स के मालिक अली अशफाक को हिरासत में लेकर पूछताछ कर चुकी है। इस सप्ताह पुलिस ने ‌बिजनेसमैन और केपीएल टीम बल्लारी टस्कर्स के मालिक अरविंद वेंकेटेश से भी पूछताछ ‌की थी। 

.
.
.
.
.