Sports

नई दिल्ली : साऊदी अरब की राजधानी रियाद में होने वाली फार्मूला-ई रेस में हिस्सा लेने वाली रीमा जफाली पहली महिला बनने जा रही हैं। रीमा ने जैगुआर आई-पेस ई ट्रॉफी में हिस्सा लेना हैं जोकि दिरियाह ईप्रिक्स का हिस्सा है।

Reema Juffali to be the first woman from Saudi Arabia to participate in Formula-E

Reema Juffali to be the first woman from Saudi Arabia to participate in Formula-E

हालांकि रीमा का महिलाओं को लेकर सख्त साऊदी अरब में विरोध भी हो रहा है। लेकिन वह इनसे बेफिक्रर है।

Reema Juffali to be the first woman from Saudi Arabia to participate in Formula-E
रीमा ने कहा- कुछ पुरुष कहते हैं कि इस गेम में महिलाओं के लिए जगह नहीं है। कुछ पुरुष जो मुझसे असहमत हैं वह मुझे अकेले ड्राइव करने दें। मैं अपने दम पर ऐसा कर रही हूं।

Reema Juffali to be the first woman from Saudi Arabia to participate in Formula-E

यह उनकी राय हो सकती है कि ऐसे गेम हमारे लिए मान्य नहीं है। यह उनकी सोच है। लेकिन यह मुझे किसी भी तरह से प्रभावित नहीं करती।

Reema Juffali to be the first woman from Saudi Arabia to participate in Formula-E

Reema Juffali to be the first woman from Saudi Arabia to participate in Formula-E

और तो और मेरे ट्विटर या इंस्टाग्राम अकाऊंट पर भी ऐसे संदेश आते हैं जिसमें लिखा होता है- आप स्त्री हो, आपको ऐसा नहीं करना चाहिए।

Reema Juffali to be the first woman from Saudi Arabia to participate in Formula-E
रीमा ने कहा- कुछ लोग तो मुझे अशिक्षित तक करार दे चुके हैं। मैं इन लोगों को जवाब देने के लिए ऐसा नहीं कर रही हूं, मैं यह कर रही हूं क्योंकि मैं इसे चुनौती के रूप में देखती हूं।

Reema Juffali to be the first woman from Saudi Arabia to participate in Formula-E

और जिसमें मुझे खुशी मिलती है उसे करने में कोई बुराई नहीं है। यह तथ्य है कि अगर मैं जीत गई तो यह कुछ लोगों पर सकारात्मक प्रभाव डालेगा तो कुछेक पर नकारात्मक।

Reema Juffali to be the first woman from Saudi Arabia to participate in Formula-E

Reema Juffali to be the first woman from Saudi Arabia to participate in Formula-E

लेकिन यह उनकी सोच है मेरी नहीं। मैं अभी भी वही कर रही हूं जो मुझे पसंद है।

.
.
.
.
.