Sports

नई दिल्ली : भारतीय क्रिकेट टीम के दोबारा कोच बनाए गए रवि शास्त्री ने दूसरी पारी शुरू होते ही खिलाडिय़ों का फिटनेस मांपने वाला यो यो टेस्ट और मुश्किल बना दिया है। शास्त्री ने आगामी टी-20 विश्व कप के चलते यो यो टेस्ट में अब कम से कम स्कोर 17 कर दिया है। इससे पहले भारतीय क्रिकेटरों को 16.1 स्कोर करना होता था। शास्त्री के इस नए कदम से भारतीय टीम के सीनियर प्लेयरों को दिक्कत आ सकती है। वहीं, युवाओं के लिए भी यह काफी सख्त होने वाला है।

Shastri did the Yo-Yo test and was tough, now he will have to take so many points
बीते दिनों ही बीसीसीआई ने शास्त्री को दोबारा मुख्य कोच चुना था। शास्त्री के अलावा भरत अरुण को बॉलिंग कोच, आर श्रीधर को फील्डिंग कोच बनाया गया था। वहीं, बल्लेबाजी कोच संजय बांगड़ को हटाकर यह जिम्मेदारी विक्रम राठौर को दी गई है। बताया जा रहा है कि नई टीम खिलाडिय़ों की फिटनेस पर खास ध्यान दे रही हैं। इसके अलावा टेस्ट क्रिकेट में ओपनिंग क्रम के लिए अच्छे बल्लेबाज ढूंढना भी प्राथमिकता होगी।

यो-यो टेस्ट की भेंट चढ़ गए थे युवराज-रैना जैसे सितारे

Shastri did the Yo-Yo test and was tough, now he will have to take so many points

फिटनेस के नए मापदंड तय करने वाले यो यो टेस्ट के कारण भारतीय टीम से स्टार प्लेयर युवराज सिंह और सुरेश रैना दूर हो गए थे। तीन साल पहले युवराज यो यो टेस्ट पास न होने के चलते टीम से बाहर हो गए थे वहीं रैना के लिए भी यह टेस्ट पास करना टेढ़ी खीर रहा।
 

PunjabKesari

 

.
.
.
.
.