Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: अपने क्रिकेट करियर की तरह राजनीति में आगाज के साथ ही कई उतार चढाव झेलने वाले टीम इंडिया के सर्वश्रेष्ठ ‘ओपनर’ में से एक गौतम गंभीर चुनाव की पिच पर शानदार ओपनिंग करते हुए पूर्वी दिल्ली सीट से लोकसभा के ससंद बने। नए सासंद गौतम के ने गुरूग्राम में एक मुस्लिम व्यक्ति के साथ दुर्व्यवहार के खिलाफ ट्वीट करने पर, उन्हीं की पार्टी के लोगों ने उन्हें आड़े हाथों लिया। जिसके बाद गंभीर ने इस हमले को अपमानजनक बताते  हुए अधिकारियों को कार्रवाई करने का आग्रह करने की बात कही थी।

गंभीर ने बातचीत में कहा, 'ट्रोल और आलोचकों कोई समस्या नहीं है और वह ऐसे ही रहेंगे और झूठ के पीछे छिपाने के बजाय सच्चाई को कहना आसान है।' 25 वर्षीय मोहम्मद बरकत आलम पर हुए हमले पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए गंभीर ने ट्वीट किया, 'गुरुग्राम में मुस्लिम युवक को उसकी धार्मिक टोपी हटाने और 'जय श्री राम' बोलने के लिए कहा गया। यह निंदनीय है। गुरुग्राम प्रशासन द्वारा अनुकरणीय कार्रवाई होनी चाहिए। हम एक धर्मनिरपेक्ष देश में रहते हैं जहां जावेद अख्तर 'ओ पालन हारे, निर्गुण और न्यारे' लिखते हैं और राकेश ओम प्रकाश मेहरा ने हमें दिल्ली 6 में 'आरज़ियन’ गीत दिया।'

.
.
.
.
.