Sports

सियोल : उत्तर कोरिया ने कहा है कि कोरोना महामारी के कारण वह तोक्यो ओलंपिक में भाग नहीं लेगा। उत्तर कोरिया के खेल मंत्रालय की एक वेबसाइट ने कहा कि 25 मार्च को राष्ट्रीय ओलंपिक समिति की बैठक के दौरान यह फैसला लिया गया। 

सदस्यों का मानना था कि कोरोना महामारी के बीच खिलाड़ियों की सुरक्षा सर्वोपरि है। दक्षिण कोरिया के एकीकरण मंत्रालय ने मंगलवार को इस फैसले पर खेद जताते हुए कहा कि उन्हें उम्मीद थी कि तोक्यो ओलंपिक दोनों कोरियाई देशों के आपसी संबंध बेहतर करने का एक जरिया साबित होंगे। जापान की ओलंपिक मंत्री तामायो मारूकावा ने पत्रकारों को बताया कि उन्हें अभी इसकी पुष्टि का इंतजार है और वह तुरंत इस पर टिप्पणी नहीं कर सकती। 

जापान की ओलंपिक समिति ने कहा कि उत्तर कोरिया ने अभी उसे इस बात की सूचना नहीं दी है कि वह तोक्यो ओलंपिक में भाग नहीं लेगा। उत्तर कोरिया ने 2018 में दक्षिण कोरिया में हुए शीतकालीन ओलंपिक में 22 खिलाड़ियों को भेजा था। सरकारी अधिकारियों, कलाकारों, पत्रकारों के अलावा महिलाओं के ‘चीयरिंग ग्रुप' में 230 सदस्य थे। उन खेलों में उत्तर और दक्षिण कोरिया ने एकीकृत कोरियाई प्रायद्वीप के प्रतीक नीले नक्शे के तले साथ में मार्च किया था। 

.
.
.
.
.