Sports

नई दिल्ली: बीसीसीआई के मुख्य कार्यकारी अधिकारी राहुल जौहरी के खिलाफ स्वतंत्र समिति ने कथित यौन उत्पीडऩ की जांच गुरूवार को शुरू कर दी जिसमें भारतीय क्रिकेट बोर्ड के इससे ‘संबंधित’ दस्तावेज सौंप दिये और पैनल ने किसी अन्य शिकायत को दर्ज कराने के लिये नौ नवंबर की तारीख तय की है।
PunjabKesari
प्रशासकों की समिति (सीओए) द्वारा नियुक्त तीन सदस्यीय समिति में इलाहाबाद उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश राकेश शर्मा, दिल्ली महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष बरखा सिंह और वकील वीना गौड़ा शामिल हैं। तीनों ने मुंबई में संदर्भ की शर्तों पर चर्चा के लिये मुलाकात की।
PunjabKesari
जौहरी ने सीओए द्वारा जारी कारण बताओ नोटिस का जवाब दे दिया है जिसमें उन्होंने अपने खिलाफ लगाये गये सभी आरोपों से इनकार किया है। बीसीसीआई की विज्ञप्ति के अनुसार, ‘बीसीसीआई ने संबंधित दस्तावेज समिति को सौंप दिए हैं। समिति अगले दो दिन में इन दस्तावेजों की जांच करके सुनवाई शुरू करेगी।’ समिति में अधिकारिक रूप से शिकायत दर्ज कराने के लिए एक अलग ईमेल भी बनाया गया है।
PunjabKesari
बयान के मुताबिक, ‘बीसीसीआई में से या बाहर से कोई भी व्यक्ति जिसकी कोई शिकायत हो, जिसके पास कुछ सूचना हो, जिसके पास कुछ सबूत हों जो यौन उत्पीडऩ के आरोपों से संबंधित हो तो वो इन्हें समिति को सात दिन के भीतर नौ नवंबर 2018 तक बीसीसीआई इंक्वायरी की ईमेल पर भेज सकता है।’          

.
.
.
.
.