Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : पिछले साल भारतीय क्रिकेट पृथ्‍वी शॉ के डोप टेस्ट में फेल होने के बाद अब एक और भारतीय खिलाड़ी के डोप टेस्ट में फेल होने की जानकारी सामने आई है। लेकिन इस बार कोई पुरूष खिलाड़ी नहीं बल्कि मध्‍यप्रदेश टीम की महिला ऑलराउंडर अंशुला राव डोप टेस्ट में फेल हुई है। महिला क्रिकेट में किसी खिलाड़ी के डोप टेस्ट में फेल होने का ये पहला मामला है। पिछले साल क्रिकेट नाडा के अधिकार क्षेत्र में आया है। 

एक मशहूर समाचार पत्र के मुताबिक मध्‍यप्रदेश की इस ऑलराउंडर को इस साल मार्च में टूर्नामेंट से बाहर कर दिया गया था। जानकारी के मुताबिक उन्होंने अनाबोलिक स्‍टेरॉयड N19 -नोरैंड्रोस्टेरोन ड्रग लिया था। ये दवाई प्रदर्शन को बढ़ाने के लिए एथलीटों की सबसे अधिक प्रशासित दवाओं में से एक है। नांद्रोलोन का उपयोग मांसपेशियों की वृद्धि और शक्ति बढ़ाने के साथ-साथ रिकवरी में तेजी लाने के लिए होता है। 

महिला क्रिकेटर के डोप टेस्ट में फेल होने के बाद अब उनपर करीब 4 साल का बैन लग सकता है। अंशुला पर कितने समय का बैन लगेगा इस पर फिलहाल कोई फैसला नहीं लिया गया है लेकिन ये फैसला नाडा करेगा। पृथ्‍वी शॉ के डोप टेस्ट में फेल होने के बाद उनपर 8 माह का बैन लगा था और उन्होंने माना था कि बिता बताए उन्होंने दवा खाई थी जिसमें प्रतिबंधित पदार्थ था। 

.
.
.
.
.