Sports

मस्कट : जीत से शानदार तरीके से अभियान शुरू करने वाली गत चैम्पियन भारतीय टीम रविवार को महिला एशिया कप हॉकी टूर्नामेंट के पूल ए के दूसरे मैच में निचली रैंकिंग की जापान के खिलाफ इसी लय को जारी रखना चाहेगी। फॉर्म और विश्व रैंकिंग को देखते हुए जापान के खिलाफ जीत की पूरी उम्मीद है जो दुनिया की नौंवी रैंकिंग वाली भारतीय टीम के लिए सेमीफाइनल स्थान सुनिश्चित कर देगी। 

भारतीय टीम ने मलेशिया को 9-0 से रौंदकर एशिया कप अभियान शानदार तरीके से शुरू किया और वह बचे हुए टूर्नामेंट में भी इसी प्रदर्शन को जारी रखना चाहेगी जिसमें विश्व कप के चार स्थान दाव पर लगे हैं। ओलंपिक पदक से चूकी भारतीय टीम ने शुक्रवार को मलेशिया के खिलाफ धीमी शुरूआत की लेकिन जैसे मैच आगे बढ़ता गया उसका आत्मविश्वास भी बढ़ता गया। इससे उसने विपक्षी टीम के डिफेंस से खेलते हुए पहले हाफ में चार और दूसरे हाफ में पांच गोल कर डाले।

मलेशिया के खिलाफ अनुभवी स्ट्राइकर वंदना कटारिया, नवनीत कौर और शमिला देवी ने दो दो मैदानी गोल किये जबकि लालरेमसियामी, मोनिका और दीप ग्रेस एक्का ने पेनल्टी कॉर्नर को गोल में तब्दील किया। भारत की अग्रिम पंक्ति ने मलेशिया के खिलाफ बेहतर खेल दिखाया लेकिन चिंता की बात है कि उसकी रक्षापंक्ति की पहले मैच में परीक्षा नहीं हो सकी। हालांकि जापान की टीम रैंकिंग में 14वें स्थान पर काबिज है लेकिन भारतीय टीम के मुख्य कोच यानेक शॉपमैन रविवार को मौजूदा एशियाई खेलों की चैम्पियन के खिलाफ मिलने वाली चुनौती से भली भांति वाकिफ हैं।

शॉपमैन ने कहा कि यह अच्छा मैच होना चाहिए। जापान भी अनुभवी टीम लाया है इसलिये हम उनके खिलाफ खेलने के लिये तैयार हैं। यह देखना दिलचस्प होगा कि हम अपनी मजबूती के हिसाब से योजना का कार्यान्वयन कर सकते हैं या नहीं। भारत की तरह ही जापान ने भी अभियान सिंगापुर को 6-0 से हराकर शुरू किया। लेकिन भारत का हाल के समय में हुए मुकाबलों में जापान पर दबदबा रहा है जिसमें उसने 2019 में एक ‘टेस्ट स्पर्धा' में उसे 2-1 से मात दी थी। भारतीय टीम ने अगस्त 2019 में तोक्यो ओलंपिक टेस्ट स्पर्धा के फाइनल में भी जापान को 2-1 के अंतर से हराया था। भारतीय टीम सोमवार को सिंगापुर के खिलाफ अपना अंतिम पूल मैच खेलेगी। 

.
.
.
.
.