Sports

भुवनेश्वर : भारत ने अपनी ख्याति के अनुरूप प्रदर्शन करते हुए एफआईएच सीरिज फाइनल्स के खिताबी मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका को 5-1 से हराया। टूर्नामेंट की प्रबल दावेदार मानी जा रही दुनिया की 5वें नंबर की टीम भारत ने चैम्पियन की तरह खेला और पूरे टूर्नामेंट में अपराजेय रही। ड्रैग फ्लिकर वरूण कुमार ने दूसरे और 49वें मिनट में गोल दागे जबकि हरमनप्रीत सिंह ने 11वें और 25वें मिनट में गोल किया। विवेक सागर प्रसाद ने भी 35वें मिनट में गोल किया।

दक्षिण अफ्रीका के लिए एकमात्र गोल 53वें मिनट में रिचर्ड पाज ने किया। भारत और दक्षिण अफ्रीका फाइनल में पहुंचने से पहले ही ओलंपिक क्वालीफायर के आखिरी दौर के लिए क्वालीफाई कर चुके थे। इससे पहले एशियाई खेलों की स्वर्ण पदक विजेता जापान ने अमेरिका को 4-2 से हराकर तीसरा स्थान हासिल किया। भारत ने पहले मिनट से ही दबाव बना लिया था। दूसरे मिनट में मिले पेनल्टी कार्नर को वरूण ने तब्दील करके मेजबान को बढ़त दिलाई। 

भारत को 11वें मिनट में एक और पेनल्टी कार्नर मिला जिस पर हरमनप्रीत सिंह ने गोल किया। पहले क्वार्टर के आखिरी मिनट में दक्षिण अफ्रीका को मौका मिला लेकिन एन एंटुली की रिवर्स हिट को भारतीय गोलकीपर कृष्ण बहादुर पाठक ने बचाया। हाफ टाइम से 5 मिनट के भीतर भारत को पेनल्टी स्ट्रोक मिला जब बीरेंद्र लाकड़ा को सर्कल के भीतर बाधा पहुंचाई गई।

 India won FIH series finals by defeating South Africa 5-1

हरमनप्रीत ने इस पर गोल करके भारत की बढ़त तिगुनी कर दी। तीसरे क्वार्टर के 5वें मिनट में विवेक सागर प्रसाद ने सिमरनजीत सिंह से मिले पास पर भारत के लिए चौथा गोल किया। वहीं वरूण ने 49वें मिनट में पेनल्टी कार्नर पर 5वां गोल किया। आखिरी सीटी बजने से 4 मिनट पहले भारत को 2 और पेनल्टी कार्नर मिले लेकिन गोल नहीं हो सका।

.
.
.
.
.