Sports

कजान (रूस) : भारतीय बैडमिंटन टीम विश्व जूनियर मिश्रित टीम चैम्पियनशिप में बुधवार को ग्रुप ई के अपने अंतिम मुकाबले में जापान से 1-4 से हारकर खिताबी दौड़ से बाहर हो गई। गोवा की तनीषा क्रैस्टो और छत्तीसगढ़ के इशान भटनागर ने टूर्नामेंट में अपना विजयी अभियान जारी रखते हुए जापान के काकेरू कुमागई और अस्तुमि मियाजाकी को मिश्रित युगल में 21-18, 21-18 से हराकर भारत को शानदार शुरुआत दिलाई। भारतीय जोड़ी की इस जीत के बाद जापान के खिलाड़ियों ने शानदार वापसी की और बाकी बचे चारों मैचों में जीत दर्ज की।

लड़कियों के एकल विश्व चैम्पियनशिप में अपना पहला (एकल) मुकाबला खेल रही गुजरात की तनसीम मीर को रिको गुनजी ने आसानी से 21-9, 21-12 से हराया, जबकि लड़कों के एकल में मणिपुर के मैसनाम मीराबा लुवांग को ताकुमा कावामोतो से 17-21 21-17 21-23 से हार गये। लड़कियों के युगल में त्रीसा जौली और वर्षिणी विश्वनाथ श्री की भारतीय जोड़ी काहो ओसावा और हिनाता सुजुकि से 12-21, 22-24 से हार गयी जिसके बाद यह तय हो गया की भारतीय टीम टूर्नामेंट के खिताबी दौड़ से बाहर हो गयी।

आखिरी मैच में मणिपुर के मनजीत सिंह और डिंकू सिंह की लड़कों के युगल जोड़ी को युशिफुमि फुजिसावा और काकेरू कुमागई ने 16-21, 14-21 से हराया। इस हार के बाद टीम ग्रुप में दूसरे स्थान पर आ गयी जिससे उसे नौवें से 16वें पायदान को तय करने का मुकाबला खेलना होगा। भारत ने इससे पहले अमेरिका को 4-1, आर्मेनिया को 5-0 और आस्ट्रेलिया को 4-1 से हराया था। 

.
.
.
.
.