Sports

जकार्ता : भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने शनिवार को यहां एशिया कप के सुपर-4 चरण के अपने पहले मैच में जापान को 2-1 से हारकर पूल चरण में इस टीम से मिली हार का बदला पूरा किया। पूल चरण में जापान के खिलाफ 2-5 से हारने वाली गत चैंपियन ने मंजीत (आठवें मिनट) और पवन राजभर (35वें मिनट) के मैदानी गोल से जीत दर्ज की। जापान की ओर से एकमात्र गोल 18वें मिनट में ताकुमा निवा ने पेनल्टी कार्नर पर किया। 

जापान ने मैच की शुरुआत में भारत पर दबाव बनाया और पहले मिनट में ही पेनल्टी कार्नर हासिल कर लिया लेकिन भारतीय खिलाडिय़ों ने उसे नाकाम कर दिया। मैच के आगे बढऩे के साथ भारतीय खिलाडिय़ों का आत्मविश्वास भी बढ़ा और उन्होंने दबदबा बनाना शुरू किया। मनजीत ने आठवें मिनट में पवन राजभर से पास हासिल करने के बाद बाएं किनारे से गेंद को अकेले लेकर आगे बढ़ते हुए उसे गोल में बदल कर शानदार खेल का प्रदर्शन किया। 

मनिंदर सिंह ने 13वें मिनट में भारत को पेनल्टी कार्नर दिलाया लेकिन नीलम संजीव जेस के प्रयास को जापान की रक्षापंक्ति ने बचा लिया। शुरुआती क्वार्टर की तरह जापान ने दूसरे क्वार्टर में भी आक्रामक शुरुआत करते हुए 18 वें मिनट में पेनल्टी कार्नर हासिल किया। केन नागायोशी की  फ्लिक को भारतीय गोलकीपर सूरज करकेरा ने बचा लिया लेकिन रिबाउंड पर  ताकुमा निवास ने गोलकर स्कोर 1-1 कर दिया।

जापान ने इसके बाद भी दबाव बनाकर दो और पेनल्टी कॉर्नर हासिल किये लेकिन भारतीय रक्षापंक्ति ने उसे विफल कर दिया। इसके एक मिनट बाद, कार्थी सेल्वम को गोल करने का सुनहरा मौका मिला लेकिन वह जापान के गोलकीपर को छकाने में  विफल रहे। राजभर ने दूसरे हाफ के खत्म होने से पांच मिनट पहले उत्तम सिंह के शानदार पास को गोल में बदल दिया। एक गोल से पीछे चल रहे जापान ने भारत पर दबाव बढ़ा दिया, लेकिन बीरेंद्र लाकड़ा की अगुवाई वाली रक्षापंक्ति ने उन्हें गोल पोस्ट से दूर रखा।

अंतिम हूटर से तीन मिनट पहले जापान ने पेनल्टी कार्नर हासिल किया लेकिन भारतीय टीम ने एक बार फिर उसका शानदार बचाव किया। भारत रविवार को अपने अगले सुपर चार चरण के मैच में मलेशिया से खेलेगा। इस बीच दिन के दूसरे सुपर चार मैच में दक्षिण कोरिया और मलेशिया ने 2-2 से ड्रॉ खेला।

.
.
.
.
.