Sports

नई दिल्ली : भारत को अटलांटा ओलिम्पिक में एकमात्र ब्रॉन्ज मेडल दिलाने वाले टेनिस प्लेयर लिएंडर पेस का कहना है कि वह बेहतरीन ओलिम्पियन है और ओलिम्पिक के लिए उनका जन्म हुआ है। पेस सबसे पुराने सक्रिय पेशेवर खिलाड़ी हैं। वह युगल में रिकॉर्ड आठ मेजर और मिश्रित युगल में दस खिताब जीत चुके हैं। वह 1997-2015 के बीच 50 से अधिक एटीपी खिताब जीत चुके हैं।

पेस ने एक कार्यक्रम के दौरान अटलांटा ओलिम्पिक में जीते गए ब्रॉन्ज मेडल पर बात की। उन्होंने कहा- ऐसा लगता है कि अटलांटा अभी कल शाम था। अगासी के खिलाफ सेमीफाइनल में मेरे पास दो सेट अंक थे और मुझे चोट लगी थी। मुझे याद है ट्रेनर तब मेरे पास आया था। वह बोला था- आप क्या कर रहे हैं, आप अब और नहीं खेल सकते।

पेस ने कहा- खेल मुझे विरासत में मिला। मेरी मां भारत के लिए बास्केटबॉल खेल चुकी हैं। 1972 में जब चार दिनों के लिए गेम बंद हो गई थी तब मुझे अहसास हुआ कि मैं एक ओलंपिक बच्चा हूं। मैंने ओलंपिक को जी रहा हूं। मैं वह महसूस कर रहा हूं जब मेरे पिताजी ने फील्ड हॉकी में उस समय कांस्य पदक जीता था।

.
.
.
.
.