Sports

खेल डैस्क : बर्मिंघम के मैदान पर खेले गए पांचवें टेस्ट में भारत पर सात विकेट से जीत दर्ज करने के बाद इंग्लैंड के कप्तान बेन स्टोक्स ने कहा कि उनकी टीम फिर से लिखने की कोशिश कर रही है कि इंग्लैंड में टेस्ट क्रिकेट कैसे खेला जाता है। जो रूट और जॉनी बेयरस्टो के बीच 269 रनों की साझेदारी ने इंग्लैंड ने इतिहास रचते हुए अपने सर्वोच्च सफल रन का पीछा करते हुए जीत हासिल की। वह भारत द्वारा दिए गए 378 रनों के लक्ष्य का पीछा करने में सफल रहे। भारत के पास पहली पारी के बाद 132 रन की लीड थी लेकिन इसके बावजूद उसे हार का सामना करना पड़ा। 

ऐतिहासिक जीत पर बेन स्टोक्स ने कहा- जब बच्चे इस तरह खेलते हैं, तो यह मेरा काम आसान कर देता है। जब आपके पास ड्रेसिंग रूम में स्पष्टता होती है, तो इससे लक्ष्य का पीछा करना आसान हो जाता है। अगर आप पांच सप्ताह पीछे जाते हैं तो पाते हैं कि 378 का लक्ष्य थोड़ा डरावना होता लेकिन अब की बात करें तो यह अच्छा है। आज जॉनी और रूट को सारा श्रेय मिलेगा। लेकिन बुमराह और शमी के खिलाफ नई गेंद को खेलने का श्रेय हमारे सलामी बल्लेबाजों को भी जाता है। यह सब विकेट लेने के बारे में हैं।

ENG vs IND, Team India, cricket news in hindi, sports news, Ben Stokes,  इंग्लैंड बनाम भारत, टीम इंडिया, क्रिकेट समाचार हिंदी में, खेल समाचार, बेन स्टोक्स

स्टोक्स ने मैच के बाद कहा कि आज कोई शिकायत नहीं हैं। कभी-कभी, टीमें हमसे बेहतर होंगी, लेकिन हमसे बहादुर कोई नहीं होगा। हम फिर से लिखने की कोशिश कर रहे हैं कि इंग्लैंड में टेस्ट क्रिकेट कैसे खेला जाता है। पिछले चार-पांच हफ्तों की हमारी सभी योजनाएं वही हैं जिन्हें हम आगे ले जाना चाहते हैं। हम अब 10 विकेट लेने के बारे में सोचते हैं। हम टेस्ट क्रिकेट को कुछ नया जीवन देना चाहते हैं। हमें जो समर्थन मिला है, वह कम समय में शानदार रहा है। हम जो करना चाहते हैं, वह अगली पीढ़ी को प्रेरित करना है। हम नए प्रशंसक लाना चाहते हैं और टेस्ट क्रिकेट पर छाप छोडऩा चाहते हैं।

 

बता दें कि भारत ने आखिरी बार 2007 में इंगलैंड से टेस्ट सीरीज जीती थी। टीम इंडिया के पास अभी भी चांस था लेकिन इंगलैंड ने बर्मिंघम टेस्ट जीतकर सीरीज बराबर कर दी। बर्मिंघम में भारतीय टीम ने 378 का लक्ष्य देकर अपनी जीत सुनिश्चित करनी चाही थी लेकिन जो रूट और बेयरस्टो ने इसे विफल कर दिया। 

.
.
.
.
.