IPL 2019
Sports

नई दिल्लीः डब्ल्यूडब्ल्यूई फैन्स रेसलर द अंडरटेकर के गुस्से से अच्छी तरह से वाकिफ होंगे, क्योंकि उन्होंने कई बार देखा होगा कि कैसे अंडरटेकर रिंग में विरोधी रेसलरों की धुनाई करते हैं। एक बार अंडरटेकर ने भारत के महान रेसलर को लड़ने का आॅफर दिया था। यह कोई आैर नहीं, बल्कि महाबली सतपाल सिंह थे। सतपाल दो बार के ओलिंपिक मेडलिस्ट सुशील कुमार के गुरु हैं। 

पिटाई खाने के बदले पैसे देने का दिया था आॅफर
कुछ साल पहले एक इंटरव्यू में सतपाल ने बताया था कि उन्हें अंडरटेकर से लड़ने का माैका मिला था। सतपाल ने बताया, "WWF से लोग मेरे पास आए और उन्होंने मुझे भारत से अपना पहलवान बनाने की बात कही। उन्होंने कहा कि वे मुझे कुछ वक़्त के लिए अपना हेवीवेट चैम्पियन भी बनाएंगे, लेकिन मुझे उनके कहे अनुसार लड़ना होगा। मैं और मेरे साथी कुछ वक़्त उनसे जुड़े भी, पैसा भी अच्छा था, लेकिन जब उन्होंने कहा कि मुझे अंडरटेकर से मार खानी होगी और इसके लिए मुझे पैसे भी मिलेंगे, तो मैंने मना कर दिया।"
 PunjabKesari

इंदिरा गांधी ने रखा था महाबली नाम
महाबली सतपाल को अर्जुन अवॉर्ड, द्रोणाचार्य अवॉर्ड, पद्श्री, पद्मभूषण जैसे बड़े सम्मान हासिल हो चुके हैं। इसके अलावा वो कई बार 'भारत केसरी', 'रुस्तम-ए-हिंद' भी रह चुके हैं। सतपाल सिंह को महाबली नाम ऐसे ही नहीं मिला। उन्होंने भारत में कुश्ती (रेसलिंग) में वो नाम कमाया है, जो सिर्फ गिने-चुने लोग ही कर पाए हैं। दिल्ली में हुए 1982 के एशियन गेम्स में उन्होंने गोल्ड मेडल हासिल किया था और फिर इंदिरा गांधी ने उनका नाम महाबली रख दिया।

.
.
.
.
.