Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: लगभग दो साल से भारतीय टीम से बाहर चल रहे गौतम गंभीर ने इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा बोल दिया है। दिल्ली की ओर से रणजी ट्रॉफी खेलते हुए उन्होंने शतक जड़ते हुए इस खेल से संन्यास लिया। इस बीच उन्होंने महेंद्र सिंह धोनी से जुड़ा एक सनसनीखेज खुलासा भी किया है। गंभीर ने 2012 की एक घटना का जिक्र करते हुए धोनी पर कड़े सवाल उठाए और कहा कि उन्हें उस वक्त बड़ा झटका लगा जब पता चला कि धोनी 2015 के वर्ल्ड कप के लिए टीम का चयन 2012 में हुई ऑस्ट्रेलिया की सीबी सीरीज में कर चुके थे।
PunjabKesari
एक वेबसाइट से बातचीत के दौरान गंभीर ने 2012 में ऑस्ट्रेलिया में हुई सीबी सीरीज के दौरान पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के फैसलों पर खुल कर चर्चा की। गंभीर ने उस दौरे को याद करते हुए बताया कि इस सीरीज में धोनी ने सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग और गंभीर को एक साथ नहीं खिलाने का फैसला किया था क्योंकि वे 2015 के वर्ल्ड कप के लिए युवाओं को मौका देना चाहते थे।
PunjabKesari
गंभीर ने कहा कि आप अगर अच्छी बल्लेबाजी कर रहे हों फिर उम्र को आंड़े लाना गलत बात है। हां अगर कोई खराब प्रदर्शन कर रहा हो तो अलग बात है, लेकिन उस वक्त हम तीनों का प्रदर्शन अच्छा था। बता दें कि गंभीर, सहवाग और सचिन तीनों ही उस वक्त भारत के टॉप बल्लेबाज हुआ करते थे। वहीं 2011 के वर्ल्ड कप में जब भारत चैंपियन बना था तो सचिन उस पूरे टूर्नामेंट में नंबर दो के टॉप स्कोरर थे जबकि भारत में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज थे। खास बात है कि ये तीनों बल्लेबाज ही 2015 विश्वकप का हिस्सा नहीं रहे थे।

PunjabKesari

.
.
.
.
.