Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: कुछ महीने पहले इंग्लैंड में खेले गए वर्ल्ड कप के बाद से ही धोनी ने भारतीय टीम से दूरी बनाई हुई है। पहले उन्होंने वेस्टइंडीज दौरे पर जाने से मना कर दिया था। इसके बाद धोनी आर्मी की ट्रेनिंग पर 15 दिनों के लिए कश्मीर चले गए। 15 अगस्त को वापस लौटने के बाद जब उनके दक्षिण अफ्रीका के साथ टी20 सीरीज में खेलने की खबरें आई तो उन्होंने इसके लिए भी खुद को अनुपलब्ध बताया था। ऐसे में क्रिकेटर से सांसद बने गौतम गंभीर ने माही ने आर्मी की ड्यूटी को लेकर बड़े सवाल खड़े किए है। 

PunjabKesari
दरअसल एक वेबसाइट से बातचीत के दौरान कहा, गंभीर से वर्ल्ड कप 2019 में महेंद्र सिंह धोनी द्वारा आर्मी के निशान वाले विकेटकीपिंग ग्लब्स पहनने के मुद्दे पर सवाल पूछा गया था। इसके जवाब में गंभीर ने कहा है कि आर्मी को किसी भी तरह के विज्ञापन की जरूरत नहीं है, और न ही उसे मार्केटिंग की आवश्यकता है। उन्होंने सेना के साथ कश्मीर में वक्त बिताकर एक बेहतरीन काम किया, मेरा उन्हें सलाम है, लेकिन मैं सेना में मानद रैंक के खिलाफ हूं। पहले भी इस चीज को लेकर आवाज उठाता रहा हूं और सेना में इस तरह की मानद रैंक का समर्थन मैं बिल्कुल भी नहीं करता। मालूम हो कि, धोनी टेरिटोरियल आर्मी में लेफ्टिनेंट कर्नल की उपाधि से सम्मानित हैं।

.
.
.
.
.