Sports

आइल ऑफ मैन ,इंग्लैंड ( निकलेश जैन ) विश्व शतरंज संघ द्वारा सबसे बड़े स्विस फॉर्मेट मे होने जा रहे फीडे ग्रांड स्विस में भारत के 5 बार के विश्व चैम्पियन विश्वनाथन आनंद भारतीय दल की चुनौती की अगुवाई करेंगे । 10 से 21 अक्टूबर तक इस प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा । प्रतियोगिता के मायने सबसे अधिक इसीलिए भी है की यहाँ जीतने वाले खिलाड़ी को सीधे फीडे कैंडीडेट्स में स्थान मिल जाएगा । प्रतियोगिता में खुद विश्व चैम्पियन मेगनस कार्लसन और फबियानों करूआना के भाग लेने की वजह से इसे पहले ही अब तक का सबसे कठिन स्विस टूर्नामेंट माना जा रहा है । 
भारत के 5 बार के विश्व चैम्पियन विश्वनाथन आनंद के पास यह आखिरी मौका होगा जब आनंद फीडे कैंडीडेट में जगह बना सके । 2013 में कार्लसन से विश्व चैंपियनशिप हारने के बाद आनंद नें 2014 में रूस के कांति मनसिस्क में फीडे कैंडीडेट जीतकर एक बार फिर कार्लसन को चुनौती दी थी और पुनः कार्लसन से हारे थे इसके बाद 2016 में मॉस्को में हुई फीडे कैंडीडेट में आनंद आखिरी बार खेले थे, जिसमें रूस के सेरगी कार्याकिन नें  जीतकर कार्लसन को चुनौती दी थी । 2018 में बर्लिन में हुई फीडे कैंडीडेट में आनंद इसका हिस्सा नहीं थे और अमेरिका के फबियानों करूआना नें इसे जीतकर कार्लसन से मुक़ाबला खेला था । 

देखे क्या आनंद बना पाएंगे फीडे कैंडीडेट में जगह - हिन्दी चेसबेस इंडिया के सौजन्य से 

PunjabKesari

क्यूंकी विश्व कप के फॉर्मेट से उलट यह प्रतियोगिता स्विस सिस्टम के आधार पर होगी अतः इसमें कोई भी खिलाड़ी अंत तक बाहर नहीं होगा ऐसे में आनंद के अलावा भारत से पेंटाला हरिकृष्णा पर भी सबकी नजरे होंगी साथ ही विदित गुजराती ,कृष्णन शशिकिरण ,सूर्या शेखर गांगुली ,भास्करन अधिबन ,एसपी सेथुरमन ,एसएल नरायणन ,निहाल सरीन ,डी गुकेश ,पृथु गुप्ता ,अभिमन्यु पौराणिक और रौनक साधवानी भी प्रतियोगिता में अपनी छाप छोड़ने की कोशिश करेंगे । 
फीडे और आयोजन समिति नें भारत की दो पूर्व विश्व जूनियर चैम्पियन महिला खिलाड़ियों हरिका द्रोणावल्ली और सौम्या स्वामीनाथन को भी प्रतियोगिता में वाइल्ड कार्ड से जगह दी है । 
खिलाड़ियों को हर मैच में पहली 40 चालों को चलने के लिए 100 -100 मिनट दिये जाएँगे उसके बाद अगली 20 चालो के लिए 50-50 मिनट और उसके बाद 15-15 मिनट और दिये जाएँगे जबकि पहली चाल से हर चाल चलने पर 30 सेकंड अतिरिक्त मिलेंगे । इस लिहाज से हमें कई 6 घंटे के मैराथन मुक़ाबले भी देखने के लिए मिल सकते है । 
 

.
.
.
.
.