Sports

न्यूयार्क : भारत के दिविज शरण और मोनाको के हुगो नीस की जोड़ी यहां अमेरिकी ओपन ग्रैंडस्लैम टेनिस टूर्नामेंट के शुरूआती दौर में रोबर्ट कारबालेस बाएना और फेडरिको डेलबोनिस की जोड़ी से सीधे सेटों में हारकर बाहर हो गई। शरण-नीस की जोड़ी को शीर्ष 100 के बाहर की रैंकिंग वाले खिलाडिय़ों की जोड़ी से 4-6 4-6 से हार का मुंह देखना पड़ा। शरण और नीस को 72 मिनट तक चले मुकाबले में कोई ब्रेक प्वाइंट नहीं मिला जबकि उनके प्रतिद्वंद्वियों ने दोनों सेट में एक एक बार ब्रेक किया और अगले दौर में प्रवेश किया।

दिविज ने कहा- हमें शायद उनके सर्विस गेम में ज्यादा दबाव डालने की जरूरत थी। डेलबोनिस ने कुछ अच्छे रिटर्न किये। यह निश्चित रूप से कठिन हार है क्योंकि मैं साल के अंतिम ग्रैंडस्लैम में बेहतर करना चाहता था। उन्होंने कहा-मैं साल के बचे हुए टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन करने की कोशिश करूंगा। इस सत्र में यह दूसरी बार है जब शरण किसी ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के पहले दौर से बाहर हुए हों, उन्हें आस्ट्रेलियाई ओपन में भी इसी चरण में हार मिली थी। इस नतीजे का मतलब है कि जब सत्र के अंतिम ग्रैंडस्लैम के खत्म होने के बाद नयी रैंकिंग जारी होगी तो वे 48 स्थान नीचे खिसक जाएंगे।

वर्ष 2018 में विम्बलडन के क्वार्टरफाइनल तक पहुंचना उनका मेजर्स में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहेगा। रोहन बोपन्ना और लिएंडर पेस भी अपने जोड़ीदारों के साथ पुरूष युगल ड्रा में चुनौती पेश करेंगे। बोपन्ना और उनके कनाडाई जोड़ीदार डेनिस शापोवालोव का सामना फ्रांस के पिएरे हुगेस हर्बर्ट और निकोलस महूत की चौथी वरीय जोड़ी से होगा। पेस अर्जेंटीना के जोड़ीदार गुलीरेमो दुर्रान के साथ अपने अभियान की शुरूआत सर्बिया के मिमोमीर केसमानोविच और नार्वे के कैस्पर रूड की जोड़ी के खिलाफ करेंगे।

.
.
.
.
.