Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : डीएवी कॉलेज जालन्धर की क्रिकेट टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए क्रिकेट कॉलेज टूर्नामेंट में राष्ट्रीय चैंपियन बन गई है। अब डीएवी की टीम अन्तर्राष्ट्रीय कॉलेज क्रिकेट टूर्नामेंट में भारत का नेतृत्व करेगी। डीएवी की टीम ने फाइनल में SSJSC कॉलेज जयपुर को फाइनल मुकाबले में 8 रन से हराकर यह खिताब जीता।

शारीरिक शिक्षा विभाग के अध्यक्ष डा. मनु सूद ने बताया कि क्रिकेट कॉलेज क्रिकेट टीमों के लिए एक वार्षिक अंतरराष्ट्रीय टी20 टूर्नामेंट है जो युवा प्रतिभाओं को एक विश्व मंच पर खेलने और पेशेवर क्रिकेट में अपना स्थान बनाने के लिए एक मंच प्रदान करता है। प्रतियोगिता 2012 में शुरू की गई थी और अब यह अपने नौवें वर्ष में है। भारत के अलग अलग अलग शहरों से टीमें राष्ट्रीय फाइनल में पहुंचने के लिए शहर क्वालीफायर के माध्यम से खेलती है। राष्ट्रीय फाइनल के विजेता इसके बाद विश्व फाइनल में अन्य देशों के राष्ट्रीय चैंपियन के खिलाफ खेलने जाते हैं क्योंकि उन्हें एक अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में अपने देश का प्रतिनिधित्व करने का मौका दिया जाता है। 

डीएवी कॉलेज जालन्धर की टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया। जिसमें डीएवी की टीम ने निर्धारित 20 ओवर्स में 120 रन बनाए। जवाब में बल्लेबाज़ी करते हुए SSJSC कॉलेज जयपुर डीएवी के बेहतरीन गेंदबाज़ी के सामने केवल 112 रन ही बना सकी और डीएवी ने यह फाइनल 8 रन से जीत लिया। डीएवी जालन्धर के कप्तान प्रेरित दत्ता ने फाइनल में आलराउंड प्रदर्शन करते हुए बल्लेबाज़ी में 23 रन बनाए जबकि गेंदबाज़ी में 3 विकेट लेकर मैन ऑफ द मैच बने। डीएवी की यह टीम पूरे टूर्नामेंट में अपराजित रही है। 

इस मौके पर प्रिंसिपल डा. एस. के. अरोड़ा ने अपनी खुशी व्यक्त करते हुए डीएवी की क्रिकेट टीम के सभी खिलाड़ियों, कोच अंकुर और शारीरिक शिक्षा विभाग को अपनी बधाई दी। उन्होंने कहा कि यह हमारे लिए अत्यंत गौरव का पल है कि हमारे कॉलेज के विद्यार्थी इस अंतराष्ट्रीय टूर्नामेंट की राष्ट्रीय विजेता बनी है। अब वो अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर भारत का नेतृत्व करेगी और यह कॉलेज के लिए अविस्मरणीय क्षण है।

इस मौके पर टीम के कोच अंकुर ने टीम के बेहतरीन प्रदर्शन के लिए पूरी टीम को बधाई दी। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय विजेता बनना एक सपने के सच होने जैसा है। उनकी टीम ने पूरे टूर्नामेंट में शुरुआत से ही पूरे जोश से भाग लिया और पूरे टूर्नामेंट में अपराजित रही। उन्होंने बताया कि डीएवी के जसवीर सिंह 'टूर्नामेंट के बेस्ट बैट्समैन' और आदित्य प्रताप ने 'टूर्नामेंट के सर्वश्रेष्ठ के खिलाड़ी' का खिताब जीता।

.
.
.
.
.