Sports

गोल्ड कोस्ट : डिस्कस थ्रोअर सीमा पूनिया और नवजीत ढिल्लों ने कॉमनवैल्थ गेम्स में एथलेटिक्स मुकाबलों में भारत का पदक इंतजार वीरवार को समाप्त करते हुए रजत और कांस्य पदक जीत लिए। पूनिया ने कुल 60.14 मीटर थ्रो फैंंका। उन्होंने अपने पहले प्रयास में इतनी दूर तक चक्का फेंका और इस तरह से कॉमनवैल्थ गेम्स में लगातार चौथा पदक जीता। नवजीत ने अपने आखिरी प्रयास में 57.43 मीटर चक्का फेंककर कांस्य पदक जीता।

34 साल की पूनिया ने अपने दूसरे प्रयास में 59.57 मीटर चक्का फेंका था जबकि अपने तीसरे और चौथे प्रयास में वह फाउल कर गई थी। अपने आखिरी कॉमनवैल्थ गेम्स में भाग ले रही पूनिया हालांकि अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन से काफी पीछे रही। उनका सत्र का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 61.05 मीटर है जो उन्होंने पिछले महीने फेडरेशन कप राष्ट्रीय चैंपियनशिप में किया था। उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 64.84 मीटर है जो उन्होंने 2004 में हासिल किया था।           

पूर्व विश्व चैंपियन आस्ट्रेलियाई दानी स्टीवेन्स ने 68.26 मीटर के खेलों के नये रिकार्ड के साथ स्वर्ण पदक जीता। उन्होंने अपने चौथे प्रयास में नया रिकार्ड बनाया। कॉमनवैल्थ गेम्स में सीमा ट्रैक एवं फील्ड में सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाली एथलीट बन गयी हैं। उन्होंने जब भी इन खेलों में हिस्सा लिया तब पदक जीता। सीमा ने सबसे पहले मेलबर्न 2006 में हिस्सा लिया था और तब रजत पदक जीता था। इसके बाद उन्होंने 2010 में रजत और 2014 में कांस्य पदक हासिल किया था।  

सीमा की दूसरी थ्रो 59.57, चौथी थ्रो 58.54 और छठी थ्रो 58.90 मीटर रही। उन्होंने तीसरी और पांचवीं थ्रो फाउल की। दूसरी ओर नवजीत ने पहले प्रयास में 55.61 मीटर चक्का फेंका। उनकी अगली दो थ्रो फाउल रहीं। उन्होंने चौथे प्रयास में 56.22 मीटर और पांचवें प्रयास में 54.09 मीटर चक्का फेंका। पांचवें थ्रो तक नवजीत पदक होड़ में शामिल नहीं थी लेकिन आखिरी थ्रो में उन्होंने 57.43 मीटर की दूरी नापकर अपना पहला राष्ट्रमंडल खेल पदक जीत लिया।

पंजाब के अमृतसर की 23 वर्षीय नवजीत ने भारत को एथलेटिक्स मुकाबलों में इस तरह दोहरी उपलब्धि दे दी। इससे पहले इन खेलों में केवल मोहम्मद अनस 400 मीटर दौड़ में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर सके थे और राष्ट्रीय रिकार्ड बनाकर चौथे स्थान पर रहे थे जबकि हिमा दास ने 400 मीटर और तेजस्विन शंकर ने ऊंची कूद में छठा स्थान हासिल किया था। महिला लंबी कूद में भारत की वी नीना 6.19 मीटर की छलांग के साथ 10वें और नयना जेम्स 6.14 मीटर की छलांग के साथ 12वें और अंतिम स्थान पर रहीं।

पुरूष तिहरी कूद स्पर्धा में भारत के अरपिंदर सिंह अपने ग्रुप बी में शीर्ष पर रहते हुए फाइनल में पहुंच गए। अरपिंदर ने 16.39 मीटर की छलांग लगाई जबकि इसी स्पर्धा के ग्रुप ए में एवी राकेश बाबू ने 15.98 मीटर की छलांग लगाई और फाइनल में पहुंचे 12 एथलीटों में जगह बनाने में कामयाब रहे। तिहरी कूद का फाइनल 14 अप्रैल को होगा।

.
.
.
.
.