Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने पूर्व कप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी के की वापसी को लेकर कहा कि वह भारतीय टीम के महान खिलाड़ी हैं और उन्हें कब वापसी करनी है इसका फैसला खुद लेंगे। इसी के साथ ही उन्होंने युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत को बार-बार मौका देने का कारण भी बताया है। 

कोच शास्त्री ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले जाने वाले दूसरे टेस्ट मैच से पहले एक समाचार पत्र को इंटरव्यू के दौरान कहा, क्या उसे (धोनी) वापस आना चाहिए है, यह उसे तय करना है। विश्व कप के बाद मैं उनसे नहीं मिला हूं। उसे पहले खेलना शुरू करना होगा और यह देखना होगा कि चीजें कैसे चलती हैं। मुझे नहीं लगता कि उन्होंने विश्व कप के बाद खेलना शुरू किया है। यदि वह उत्सुक होते तो वह निश्चित रूप से चयनकर्ताओं से बात करते। वह हमारे सबसे महान खिलाड़ियों की सूची में सबसे ऊपर हैं। 

PunjabKesari

‘साहा विश्व का सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर'

कप्तान विराट कोहली के बाद अब शास्त्री ने भी रिद्धिमान साहा को दुनिया का सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर बताता है जिससे ऋषभ पंत के दूसरे टेस्ट में प्लेइन इलेवन के चयन को स्पष्ट कर दिया है। उन्होंने कहा कि पंत का पक्ष लेने का कारण साहा का चोटिल होना था। साहा के चोटिल होने के कारण ही पंत टेस्ट टीम में आए। साहा दुनिया का सबसे अच्छा 'कीपर' है। उन्होंने कहा कि घरेलू मैदान पर जहां उछाल परिवर्तनशील होता है उसकी कीपिंग अमूल्य है। शास्त्री ने कहा, पंत ने इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट शतक बनाए हैं, प्रतिभाशाली हैं, लेकिन वह अभी भी बहुत कम उम्र के हैं और उनके पास अपने अपनी विकेटकीपिंग को बेहतर करने का समय है। 

विश्व कप के बाद से ही टीम से बनाए रखी है दूरी

गौर हो कि विश्व कप के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के हाथों हारने के बाद से ही धोनी क्रिकेट से दूरी बनाए हुए हैं। वेस्टइंडीज दौरे पर जाने से इंकार करते हुए धोनी आर्मी ट्रेनिंग पर कश्मीर चले गए थे जबकि 15 अगस्त को वापस आने के बाद द. अफ्रीका दौरे के लिए भी उन्होंने खुद को अनुपलब्ध बताया था। जहां धोनी क्रिकेट से दूरी बनाए हुए हैं वहीं धोनी के फैंस उन्हें टीम में वापस देखने के लिए बेसबरी से इंतजार कर रहे हैं। 

.
.
.
.
.