Sports

स्पोर्ट्स डेस्क (नीलंकठ): रविंद्र जडेजा की आकर्षक पारी के बावजूद भारत को शीर्ष क्रम की नाकामी के कारण विश्व कप सेमीफाइनल में बुधवार को यहां न्यूजीलैंड के हाथों 18 रन से हार का सामना करना पड़ा जिससे उसका क्रिकेट महाकुंभ (विश्व कप) में सफर भी समाप्त हो गया। लेकिन मैच में एक ऐसा मोड़ आया, जहां मार्टिन गप्टिल के एक सीधे थ्रो ने धोनी को रन आउट कर दिया। हालांकि, टि्वटर पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसने उस गेंद पर सवाल खड़े कर दिए हैं, जिस पर धोनी रन आउट हुए। 

PunjabKesari
दरअसल, हुआ यूं कि 48वें ओवर में जब धोनी बल्लेबाजी कर रहे थे तो उस वक्त न्यूजीलैंड कचार खिलाड़ी 30 गज के घेरे के अंदर थे, लेकिन धोनी जिस गेंद पर रन आउट हुए, उससे एक गेंद पहले न्यूजीलैंड ने फील्डिंग में बदलाव किया और 30 गज के सर्कल के अंदर सिर्फ तीन खिलाड़ी ही रह गए।

हालांकि, सोशल मीडिया पर जो फील्डिंग का ग्राफिक्स वायरल हो रहा है उसके मुताबिक 30 गज के अंदर न्यूजीलैंड के तीन खिलाड़ी थे।

क्या है आईसीसी के नियम
PunjabKesari
नियमों के अनुसार अंतिम पावरप्ले में 5 फील्डर 30 गज के दायरे से बाहर खड़े हो सकते हैं, लेकिन इस गेंद के फेंके जाने से पहले जो ग्राफिक दिखाया गया उसके अनुसार उस समय न्यूजीलैंड के छह खिलाड़ी दायरे से बाहर खड़े थे। यहां यह याद रखना चाहिए कि यदि यह नो बॉल होती तब भी धौनी रन आउट हो सकते थे, क्योंकि नो बॉल पर बल्लेबाज रन आउट हो सकता है। 

PunjabKesari
महेंद्र सिंह धोनी का रनआउट होना टीम इंडिया के लिए सबसे खतरनाक साबित हुआ। इसके साथ ही भारत 240 रनों के अपने लक्ष्य से 18 रन दूर रह गया। टॉप ऑर्डर के ध्वस्त होने के बाद धोनी और रवींद्र जडेजा पर यही जिम्मेदारी के बीच सनसनीखेज शतकीय भागीदारी हुई। 

 

.
.
.
.
.