Sports

बेंगलुरु : भारतीय पुरुष हॉकी टीम के फॉरवर्ड ललित उपाध्याय का कहना है कि सकिर्ल के अंदर बेल्जियम का आक्रमण काफी प्रभावशाली है। भारतीय टीम ने विश्व चैंपियन बेल्जियम को इस साल हॉकी प्रो लीग के पहले मैच में 2-1 से हराया था जबकि दूसरे मुकाबले में उसे 2-3 से हार का सामना करना पड़ा था। एफआईएच हॉकी प्रो लीग की कोरोना वायरस के बीच फिर से शुरुआत हो गयी है जिसमें मंगलवार को बेल्जियम ने जर्मनी को 6-1 से हराया।

ललित ने कहा, ‘हम सभी एफआईएच हॉकी प्रो लीग के मैच शुरु होने से उत्साहित हैं। हालांकि हम एक करीबी मुकाबले की उम्मीद कर रहे थे लेकिन यह एकतरफा मुकाबला निकला। जर्मनी को बेल्जियम के अटैक के खिलाफ काफी संघर्ष करना पड़ा और सकिर्ल के अंदर बेल्जियम का आक्रमण काफी प्रभावशाली था।' उन्होंने कहा, ‘‘बेल्जियम के सभी छह गोल अलग-अलग खिलाड़यिों ने किए। इस मैच से काफी कुछ सीखा जा सकता है। जर्मनी के डिफेंस की कुछ गलतियों से भी सीख ली जा सकती है कि हमें बेल्जियम जैसी टीम के खिलाफ क्या नहीं करना है।'

ललित ने कहा, ‘हम लोग ट्रेनिंग जल्दी इसलिए शुरु कर सके क्योंकि हॉकी इंडिया ने अप्रैल में ही एसओपी तैयार कर लिया था। हमें राष्ट्रीय शिविर शुरु होने से पहले दिशानिर्देश के बारे में बताया गया था, इसलिए हमारी गतिविधियां आराम से शुरु हो सकीं। फिलहाल हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता फिटनेस को बरकरार रखना है जैसी इस साल के शुरुआत में थी। इस कारण जर्मनी को संघर्ष करना पड़ा।' 

.
.
.
.
.