Sports

असंकिओन: अर्जेंटीना के स्टार फुटबाॅल खिलाड़ी लियोनेल मेस्सी को कोपा अमेरिका टूर्नामेंट के दौरान दक्षिण अमेरिकी फुटबाॅल परिसंघ (सीओएनएमईबीओएल) की आलोचना करने पर शुक्रवार को तीन महीने के लिए राष्ट्रीय टीम से खेलने पर प्रतिबंध लगा दिया गया। उन पर प्रतिबंध के साथ 50,000 डालर का जुर्माना भी लगाया गया। 

PunjabKesari
पिछले महीने ब्राजील में खेले गए कोपा अमेरिका कप में चिली के खिलाफ तीसरे स्थान के लिए हुए मुकाबले के दौरान मैदान से बाहर भेजे जाने के बाद बार्सिलोना के इस खिलाड़ी ने सीओएनएमईबीओएल पर ‘भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था।' मेजबान टीम के खिलाफ सेमीफाइनल में दो मौकों पर पेनल्टी नहीं मिलने से खफा मेस्सी ने कहा था कि ब्राजील ‘इन दिनों सीओएनएमईबीओएल में बहुत कुछ नियंत्रित कर रहा है'।

PunjabKesari
ब्राजील ने इस मुकाबले में अर्जेंटीना को 2-0 से हराया था। अगले मुकाबले में रेफरी ने उन्हें मैदान से बाहर कर दिया जिसके बाद वह अपने गुस्से पर नियंत्रण नहीं रख सके। टीम की 2-1 से जीत के बाद उन्होंने आरोप लगाया, ‘भ्रष्टाचार और रेफरी लोगों को फुटबाल का लुत्फ से रोक रहे हैं और वे इसे बर्बाद कर रहे हैं।' सीओएनएमईबीओएल ने अपनी वेबसाइट के जरीये जारी बयान में कहा कि यह प्रतिबंध उनके अनुशासनात्मक नियमों की धारा 7.1 और 7.2 से संबंधित है। इस धारा का मतलब ‘आक्रामक, अपमानजनक व्यवहार या किसी भी तरह के विरोध प्रदर्शन से हैं।' 

.
.
.
.
.