Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: भारतीय टीम से बाहर चल रहे गौतम गंभीर सोशल मीडिया पर अपने बेबाक विचारों के लिए अक्सर सुर्खियों में रहते हैं। उन्होंने अभी हाल ही में डीडीसीए से मांग की थी कि वो खुद को दिल्ली की कप्तानी से अलग रखना चाहते हैं। उन्होंने किसी युवा खिलाड़ी को इसकी जिम्मेदारी सौंपने की बात कही थी।
sports news, cricket news hindi, Indian cricket, Ranji Trophy, delhi team, Gautam Gambhir, Match umpire, Out issue, DDCA
रणजी ट्रॉफी का सीजन परवान चढ़ चुका है और इस टूर्नामेंट में हिस्सा लेने वाली सभी टीमों ने खिताब के लिए जोर लगाना शुरू कर दिया है। अगर दिल्ली की बात करें तो हाल ही में खुद को कप्तानी से अलग करने वाले गंभीर और तेज गेंदबाज इशांत शर्मा की मौजूदगी में ये टीम प्रभावशाली नजर आ रही है।
sports news, cricket news hindi, Indian cricket, Ranji Trophy, delhi team, Gautam Gambhir, Match umpire, Out issue, DDCA
12 नवंबर को दिल्ली टीम अपने पहले मुकाबले में हिमाचल प्रदेश के साथ अपने घर यानी फिरोजशाह कोटला मैदान पर खेलते समय कुछ ऐसा हुआ, जिसे देखकर हर कोई हैरान रह गया। इस मैच में एक मौके पर गौतम गंभीर अंपायर के निर्णय पर नाराज हो गए। दरअसल, इस मुकाबले में जब गंभीर 44 रन बनाकर खेल रहे थे तो अंपायर ने उन्हें आउट करार दे दिया।
sports news, cricket news hindi, Indian cricket, Ranji Trophy, delhi team, Gautam Gambhir, Match umpire, Out issue, DDCA
स्पिन गेंदबाज मयंक डागर की एक गेंद गौतम को चकमा देते हुए शॉर्ट लेग पर खड़े फील्डर की ओर चली गई, जिसे वहां मौजूद खिलाड़ी ने कैच लपक लिया था। ऐसे में, अपील पर अंपायर ने उन्हें आउट करार दे दिया। इस पर गंभीर अंपायर से खासे नाराज दिखे, क्योंकि गेंद उनके बल्ले को नहीं, बल्कि कंधे को छूकर खिलाड़ी तक पहुंची थी। आउट करार दे दिए जाने के बाद पवेलियन की ओर जाते समय गंभीर काफी गुस्से में दिखाई दे रहे थे। बता दें कि गंभीर के नेतृत्व में अभी हाल ही में विजय हजारे ट्रॉफी में दिल्ली की टीम ने फाइनल में अपनी जगह बनाई थी। हालांकि, फाइनल मुकाबले में मुंबई की टीम ने बाजी मार ली थी।  

.
.
.
.
.