Sports

नई दिल्ली : भारत में कोरोना महामारी के बढते मामलों के कारण यात्रा प्रतिबंधों के चलते साइना नेहवाल और किदाम्बी श्रीकांत समेत भारत के शीर्ष बैडमिंटन खिलाड़ी अगले महीने मलेशिया और सिंगापुर में होने वाले आखिरी दो ओलंपिक क्वालीफायर खेलने कतर के रास्ते जाएंगे। दुनिया की पूर्व नंबर एक खिलाड़ी साइना और श्रीकांत अभी तक तोक्यो ओलंपिक के लिये क्वालीफाई नहीं कर सके हैं। 

इंडिया ओपन सुपर 500 टूर्नामेंट स्थगित होने के बाद उनके पास क्वालीफाई करने के लिये बहुत कम समय बचा है। अब तोक्यो ओलंपिक के लिये सिर्फ दो क्वालीफायर मलेशिया ओपन (25 से 30 मई) और सिंगापुर ओपन (एक से छह जून) बचे हैं। क्वालीफाई करने की आखिरी तारीख 15 जून है। 

वहीं सिंगापुर और मलेशिया ने भारत से यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया है। भारतीय ओलंपिक संघ (बाइ) ने कहा कि वह विकल्प तलाश रहा है क्योंकि मलेशिया और सिंगापुर सीधे उड़ान लेना संभव नहीं है। बाइ ने एक बयान में कहा ,‘‘ मौजूदा यात्रा प्रतिबंधों के कारण भारतीय खिलाड़ी सीधे नहीं जा सकेंगे। हमने वैकल्पिक उड़ानों की पड़ताल की है। अब वे श्रीलंका या दोहा के जरिये जायेंगे। हमने वीजा के लिये दस्तावेज दे दिये हैं। 

खेल संबंधी यात्रा को छोड़कर भारतीयों को वीजा जारी करने पर भी प्रतिबंध है लेकिन कुछ नियम और शर्तों के साथ वीजा मिल रहा है। भारत से पी वी सिंधु, बी साइ प्रणीत और पुरूष युगल टीम के चिराग शेट्टी तथा सात्विक साइराज रंकीरेड्डी ओलंपिक के लिये क्वालीफाई कर चुके हैं । श्रीकांत और साइना के अलावा महिला युगल टीम एन सिक्की रेड्डी और अश्विनी पोनप्पा भी क्वालीफायर खेल सकते हैं । 

.
.
.
.
.