Sports

नई दिल्ली : कोविड-19 महामारी के कारण 7 महीने के ब्रेक के बाद हॉकी का घरेलू सत्र इस साल अक्टूबर में भोपाल में पहली सब-जूनियर पुरूष राष्ट्रीय अकादमी चैम्पियनशिप से बहाल होगा। हॉकी इंडिया ने मेजबान राज्य सदस्य इकाई और भाग लेने वाली टीमों को कड़े एहतियात बरतने और गृह मंत्रालय और संबंधित राज्य सरकार द्वारा बनाए गए सभी कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने का निर्देश दिया।

साथ ही घरेलू प्रतियोगिताओं की मेजबानी में हॉकी इंडिया के दिशानिर्देशों का पालन करने को भी कहा है। पहली बार खेली जाने वाली सब जूनियर पुरूष राष्ट्रीय अकादमी चैम्पियनशिप चार से 13 अक्टूबर तक आयोजित की जाएगी। इसके बाद पहली हॉकी इंडिया जूनियर पुरूष अकादमी राष्ट्रीय चैम्पियनशिप भोपाल में 18 से 27 अक्टूबर तक खेल जाएगी।

शुरूआती हॉकी इंडिया जूनियर महिला अंतर विभागीय राष्ट्रीय चैम्पियनशिप यहां अक्टूबर में होगी। अक्टूबर में ही झारखंड के सिमडेगा में 11वीं हॉकी इंडिया जूनियर महिला राष्ट्रीय चैम्पियनशिप जबकि 11वीं हॉकी इंडिया जूनियर पुरूष राष्ट्रीय चैम्पियनशिप भी इसी महीने में तेलगांना में खेली जायेगी। सीनियर महिला राष्ट्रीय चैम्पियनशिप भी अक्टूबर के महीने में अस्थायी रूप से उत्तर प्रदेश के झांसी में आयोजित होने वाली है। हालांकि हॉकी इंडिया को अभी अंतिम तीन टूर्नामेंट की सही तिथियों की पुष्टि करनी बाकी है।

हॉकी इंडिया के अध्यक्ष ज्ञानेंद्रो निंगोम्बाम ने एक बयान में कहा कि टोक्यो ओलिम्पिक में भारतीय पुरूष और महिला हॉकी टीमों की सफलता के बाद काफी उत्साह है और हम इस उत्साह को खेल के मैदान में शानदार प्रदर्शन में तब्दील करना चाहते थे। इसी इच्छा से हमने हॉकी इंडिया के घरेलू कैलेंडर के बहाल करने की घोषणा की। देश में कोविड-19 मामलों के चलते इस साल मार्च में हमें इन्हें रोकना पड़ा लेकिन अब हमें लगता है कि कोविड-19 दिशानिर्देशों के अंतर्गत प्रतियोगिताओं को बहाल करना सुरक्षित है।

.
.
.
.
.