Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: भारत की स्टार टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा ने अपने करियर में कई ग्रैंड स्लैम खिताब जीते, लेकिन जब उन्होंने पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब मलिक से शादी की तो उन्हें लोगों की आलोचनाओं का शिकार भी होना पड़ा। हालांकि शोएब से पहले उन्हें रूस के टेनिस स्टार मराट सफीन पर क्रश था। 

पहली मुलाकात में सानिया के लिए धड़कने लगा था शोएब का दिल 

सानिया और मलिक पहली बार ऑस्‍ट्रेलिया के होबार्ट शहर में एक रेस्त्रां में मिले थे। पहली मुलाकात के बाद ही शोएब का दिल सानिया के लिए धड़कने लगा और वह उनसे मिलने के बहाने ढूंढने लगे। 2010 में सानिया होबार्ट (ऑस्ट्रेलिया) में टूर्नामेंट खेलनी गईं थीं और शोएब भी अपनी टीम के साथ वहीं थे। तब सानिया और शोएब की फिर से मुलाकात हुई और जब सानिया और शोएब की दोस्ती की खबर सानिया के पिता को लगी तो उन्होंने शोएब को डिनर पर बुला लिया। इसके बाद शोएब और सानिया के बीच नजदीकियां बढ़ गई। 

कई बार झेलनी पड़ी परेशानियां 

दोनों ने 12 अप्रैल, 2010 को शादी की। लोगों को यह जोड़ी पसंद नहीं आई। खासकर, भारतीय फैंस उनसे निराश दिखे। शोएब मलिक के साथ शादी रचाने के बाद उनकी काफी आलोचना हुई थी। अपने करियर के दौरान अनेको बार सानिया को विवादों का सामना करना पड़ा। कभी टेनिस मैचों के दौरान छोटी ड्रेस पहनने को लेकर तो कभी कुछ दूसरी बातों को लेकर। छोटी ड्रेस पहनने को लेकर मुस्लिम संगठनों ने उनकी काफी आलोचना की। उनके खिलाफ फतवा तक जारी कर दिया गया था। सानिया पर तिरंगे के अपमान के भी आरोप लगे। इस मामले में उन पर केस भी दर्ज हुआ। मगर सानिया मिर्जा कभी किसी विवाद से विचलित नहीं हुईं और अपने करियर को लेकर आगे बढ़ती गईं।

फिलहाल, सानिया मिर्जा अपनी निजी जिंदगी में काफी खुश हैं। उनका एक बेटा भी जिसका नाम इजहान है। सानिया मिर्जा महिला सशक्तिकरण का मजबूत उदाहरण हैं, जिन्होंने कठिनाइयों का सामना किया और अपने सपनों को पूरा किया। 

सानिया मिर्जा के जुड़ी 5 खास बातें 

लिएंडर पेस के बाद सानिया मिर्जा राजीव गांधी खेल रतन सम्मान पाने वाली दूसरी खिलाड़ी है। 
सानिया पहली भारतीय महिला टेनिस खिलाड़ी हैं जिन्होंने महिला युगल ग्रैंड स्लैम जीता है।
एस समय ऐसा भी था जब सानिया को रूस के टेनिस स्टार मराट सफीन पर क्रश था।
सानिया पहली भारतीय टेनिस स्टार है जिन्होंने इनाम में 1 मिलियन डाॅलर से ज्यादा की राशि जीती है।
सानिया ने 6 साल की उम्र में टेनिस खेलना शुरु किया था और सानिया के पहले कोच उनके पिता इमरान मिर्जा थे।

टेनिस करियर

* 3 फरवरी, 2003 को इन्होंने टेनिस करियर की शुरुआत की।
* सिंगल में 271 मैच खेले, 161 जीते
* सिंगल में 1 WTA और 14 ITF खिताब
* मिक्स डबल्स: ऑस्ट्रेलियन ओपन (2009)
* मिक्स डबल्स: फ्रेंच ओपन (2012)
* मिक्स डबल्स: यूएस ओपन (2014)
* डबल्स में 492 मैच खेले, 214 जीते
* डबल्स: 41 WTA और 4 ITF खिताब

sania mirza image

पुरस्कार :

अर्जुन पुरस्कार (2004)
डब्ल्यूटीए न्यू कॉमर्स ऑफ द ईयर (2005)
पद्मश्री (2006) [52]
राजीव गांधी खेल रत्न (2015) [53]
पद्म भूषण (2016)
एनआरआई ऑफ द ईयर (2016) 

.
.
.
.
.