Sports

ढाका : बांगलादेश के क्रिकेटरों की मांगों को लेकर कुछ दिन पहले हड़ताल पर गए शाकिब अल हसन नई मुसीबत में फंस गए हैं। उन्होंने बांगलादेश क्रिकेट बोर्ड से जुड़ा एक कानून तोड़ा है जिसके लिए उनके ऊपर कार्रवाई हो सकती है। दरअसल शाकिब ने टेलीकॉम कंपनी के साथ डील करके बोर्ड के नियम और शर्त का उल्लघंन किया था, जिसके बाद  बोर्ड ने टेस्ट और टी20 कप्तान शाकिब को कारण बताओ नोटिस भी जारी कर दिया है।

बांगलादेश क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष नजमुल हसन का कहना है कि अगर शाकिब ने निश्चित दिनों में संतोषजनक जवाब नहीं दिया तो उनपर कार्रवाई होगी। दरअसल बीती 22 अक्तूबर को ही बांगलादेश की एक टेलीकॉम कंपनी ने घोषणा की थ्ी कि ऑल राउंडर शाकिब अल हसन उनके ब्रांड एंबेसडर हैं। इसके एक दिन बाद ही बांगलादेशी क्रिकेटरों के हड़ताल पर जाने की खबर आ गई थी। लेकिन अब इस मामले में समझौता हो चुका है।


बोर्ड अध्यक्ष हसन का कहना है कि शाकिब का क्रिकेट बोर्ड के साथ एग्रीमेंट साइन है। इसके तहत वह ऐसी कोई भी डील साइन नहीं कर सकते। हमारा टाइटल स्पॉन्सर रॉबी टेलीकॉम है। जबकि शाकिब जिस कंपनी ग्रामीण फोन के ब्रांड एंबेसडर बने हैं, उसने टाइटल स्पांसरशिप के लिए बोली तक नहीं लगाई थी। अब वह क्रिकेटरों से डायरेक्ट डील कर अपना प्रचार कर रहे हैं जोकि गलत है।

.
.
.
.
.