Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: महिला टी20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में टीम इंडिया की हार के बाद टीम के सेलेक्शन विवाद को लेकर आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है। बयान दिए जा रहे हैं, सफाई भी पेश की जा रही है और अब मामले में पूछताछ और मुलाकातों का दौर शुरू हो गया है। BCCI के शीर्ष अधिकारियों ने मिताली राज और टी20 टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर से अलग-अलग मुलाकात कर इस विवाद पर उनकी राय जानी है। वहीं, BCCI के CEO राहुल जौहरी ने इन मुलाकातों के बारे में विस्तार से जानकारी देने से इनकार कर दिया है।

BCCI के शीर्ष अधिकारियों से अलग-अलग मिले मिताली-हरमन-भट्टाचार्य

Mithali Raj And Harmanpreet Kaur

सेलेक्शन विवाद को लेकर BCCI के CEO राहुल जौहरी और महाप्रबंधक सबा करीम ने मिताली राज, हरमनप्रीत कौर और टीम की मैनेजर तृप्ति भट्टाचार्य से अलग-अलग बात की और उनकी राय जानी। बता दें कि सेमीफाइनल मुकाबले में फिट होने के बावजूद मिताली को टीम से बाहर रखने के अपने फैसले को हरमनप्रीत कौर ने रविवार को जायज ठहराया था।

राहुल जौहरी बोले- मुलाकात हुई है, लेकिन विस्तार से जानकारी नहीं देंगे

Rahul Johri BCCI CEO

मिताली, हरमनप्रीत और मैनेजर भट्टाचार्य से मुलाकात कर उनकी राय जानने के बाद राहुल जौहरी ने बताया कि तीनों ने हमसे अलग-अलग बात कर अपनी राय रखी है और हमने उनकी तमाम बातों को नोट किया है। वहीं, जौहरी ने मुलाकात की विस्तार से जानकारी देने की बात से मना कर दिया। उन्होंने कहा कि हमने मुलाकात जरूर की है और हमने ये बताया भी है कि मुलाकात हुई है, लेकिन आप ये मत पूछें कि क्या चर्चा हुई, क्या जवाब दिया गया।

कोच रमेश पवार से भी बात कर सकते हैं जौहरी-करीम

Ramesh Powar Women Cricket Team Coach

बता दें कि महिला क्रिकेट टीम के कोच के तौर पर रमेश पवार का अंतरिम अनुबंध इसी महीने की 30 तारीख को खत्म हो रहा है। ऐसे में, ये हो सकता है कि बोर्ड के शीर्ष अधिकारी उनसे बात ना करें, लेकिन इस बात से भी इनकार नहीं किया जा सकता कि उन्हें मुलाकात के लिए ना बुलाया जाए। चूंकि बोर्ड के शीर्ष अधिकारी इस विवाद के हर पहलू को सुनना-समझना चाहते हैं, जिससे वो प्रशासकों की समिति (CoA) को विस्तृत रिपोर्ट देकर इस विवाद को सुलझा सकें। ऐसे में, कयास ये भी लगाए जा रहे हैं कि उन्हें भी बातचीत के लिए बुलाया जाए।

मिताली राज को लेकर लगाई जा रही हैं कई तरह की अटकलें

Mithali Raj Women Cricketer

वहीं, अब मिताली राज को लेकर कई तरह की अटकलें भी लगाई जा रही हैं। अटकलों के मुताबिक, उन्होंने प्रशासकों की समिति (सीओए) के एक सदस्य से भी मुलाकात कर अपनी बात रखी है, लेकिन अभी तक इस ख़बर की कोई पुष्टि नहीं हो पाई है। इतना ही नहीं, अटकलें तो ये भी लगाई जा रही हैं कि 35 साल की मिताली इस विवाद के कारण बड़ा फैसला लेते हुए टी20 जैसे फटाफट फॉर्मेट से किनारा कर सकती हैं और सिर्फ वनडे क्रिकेट पर ही फोकस कर सकती हैं।  

.
.
.
.
.