Sports

कराचीः  पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की नव गठित क्रिकेट समिति के अध्यक्ष मोहसिन खान का मानना है कि तीनों प्रारूपों में पाकिस्तान की कप्तानी से सरफराज अहमद पर काफी दबाव पड़ रहा है और उनकी जगह टेस्ट कप्तानी किसी और को सौंपी जानी चाहिए। पूर्व टेस्ट बल्लेबाज मोहसिन खान ने सुझाव दिया कि पीसीबी किसी अन्य सीनियर खिलाड़ी को टेस्ट कप्तानी सौंप सकता है, जिससे सरफराज पूरी तरह से 50 ओवर और टी20 प्रारूप पर ध्यान लगा सकें।          

मोहसिन खान ने कहा, "मैंने सिर्फ सुझाव दिया है, क्योंकि निजी तौर पर मेरा मानना है कि टीम में विकेटकीपर-बल्लेबाज के रूप में सरफराज पर काफी अधिक दबाव है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला के दौरान वह थका हुआ लग रहा था।" पाकिस्तान क्रिकेट टीम के मुख्य चयनकर्ता और मुख्य कोच की भी भूमिका निभा रहे मोहसिन खान ने कहा कि सरफराज को कुछ राहत दी जानी चाहिए।   
Mohsin Khan       

उन्होंने कहा, "एशिया कप टूर्नामेंट के दौरान सरफराज की बॉडी लैंग्वेज इतनी खराब थी कि मुझे उसके लिए दुख हो रहा था। मैं कह रहा हूं कि आपके पास एक नया लड़का है, उस पर तीनों प्रारूपों में कप्तानी का बोझ मत डालो। इससे वह थक जाएगा।" मोहसिन खान ने कहा कि उन्होंने बोर्ड को सुझाव दिया है कि किसी अन्य खिलाड़ी को टेस्ट में डेढ़ साल के लिए कप्तान बनाया जाए, जब तक कि सरफराज विश्व कप के बाद सभी प्रारूपों का दबाव झेलने में सक्षम नहीं हो जाता।     

.
.
.
.
.