Sports

मॉस्कोः फीफा विश्वकप में निचली रैंकिंग और अंडरडॉग की तरह उतरी रूसी टीम ने अपने घरेलू मैदान पर कमाल का प्रदर्शन करते हुए बड़े उलटफेर किए लेकिन क्वार्टरफाइनल में उसका सफर हार के साथ समाप्त हो गया जिसके बावजूद मेजबान देशवासियों ने अपनी राष्ट्रीय टीम को न सिर्फ हीरो जैसी विदाई दी बल्कि उसकी हौंसला अफजाई करते हुए रातभर जश्न भी मनाया।  

राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने भी अपनी टीम के विश्वकप में अच्छे प्रदर्शन के लिए उसे बधाई दी और कहा कि उन्हें टीम पर गर्व है तो वहीं रूसी प्रशंसकों ने अपने खिलाड़ियों को उसकी क्रोएशिया के खिलाफ पेनल्टी शूटआउट में मिली हार के बाद सलामी भी दी। फीफा विश्वकप में इसी के साथ रूसी टीम का सफर समाप्त हो गया। लेकिन देशवासियों ने टीम की हार के बाद भी उसी तरह से जश्न मनाया जैसा उसने स्पेन के खिलाफ टीम को नॉकआउट में मिली जीत के बाद मनाया था। 

PunjabKesari

रूस को विश्वकप से पूर्व कमजोर टीम माना जा रहा था लेकिन उसने बड़े उलटफेर करते हुए निचली रैंकिंग के बावजूद क्वार्टरफाइनल तक का सफर तय किया। क्रोएशिया के खिलाफ हार के कुछ देर बाद ही सभी रूसी प्रशंसकों ने राष्ट्रीय टीम के लिए तालियां बजाकर उनका हौंसला बढ़ाया और विश्वकप में क्वार्टरफाइनल तक का सफर तय करने पर उसकी जमकर प्रशंसा की। 

‘हमें तुम पर गर्व है’ के लगाए नारे 
रूस की सड़कों पर घरेलू प्रशंसक हाथों में बैनर और झंडे लेकर निकले और ‘हमें तुम पर गर्व है’ के नारे लगाए। लोगों ने सड़कों पर गाजे बाजे के साथ पूरी रात जश्न भी मनाया जो किसी टीम के हारने के बाद देखा गया अनोखा नजारा था। सड़कों पर जश्न मनाते एक रूसी फैन ने कहा, हमारे खिलाड़ियों ने कमाल किया। उन्हें इस टूर्नामेंट के लिये बधाई। एक अन्य प्रशंसक ने कहा, यह एक बेहतरीन मैच था, हमारे खिलाड़ियों ने बहुत संघर्ष किया। मैं बहुत खुश हूं कि पहली बार क्वार्टरफाइनल तक पहुंचे।

.
.
.
.
.