Sports

कराची: पाकिस्तान हाॅकी महासंघ (पीएचएफ) के सचिव शाहबाज अहमद ने सरकार पर हाॅकी के साथ सौतेला व्यवहार करने का आरोप लगाते हुए अपने पद से शनिवार को इस्तीफा दे दिया।     अंतरराष्ट्रीय हाॅकी के दिग्गज खिलाड़ी रहे शाहबाज ने शनिवार को पीएचएफ की कार्यकारी कांग्रेस की बैठक में अपना इस्तीफा सौपते हुए कहा, ‘जब सरकार और मंत्रियों के पास हमारे राष्ट्रीय खेल के लिए ना तो समय है और ना ही फंड। ऐसे में मेरे पास भी हाॅकी के लिए समय नहीं है।’ यह बैठक हाल ही में हुए विश्व कप में टीम के प्रदर्शन के आकलन पर चर्चा के लिए बुलाई गई थी।
PunjabKesari
पाकिस्तान के खराब प्रदर्शन के बाद टीम के मुख्य कोच, सहायक कोच और प्रबंधक इस्तीफा दे चुके है। इस पूर्व कप्तान ने कहा, ‘पीएचएफ में मेरे समय देने का कोई फायदा नहीं है। पिछले तीन वर्षों से हमें ज्यादातर समय फंड के लिए भीख मांगनी पड़ी। सरकार और मंत्रालय के पास देश में हाकी को पुनर्जीवित करने की कोई योजना नहीं।’          

.
.
.
.
.