Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: मोहली में भारत और आस्ट्रेलिया के बीच वनडे सीरीज का चौथा मुकाबला खेला गया। जहा, कंगारूओं ने भारत को 4 विकेट से हरा दिया था। इस मैच में धोनी की जगह ऋषभ पंत को विकेटकीपिंग बल्लेबाज के तौर पर प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया था। वही मैच में उनसे विकेट के पीछे कई गलतियां हुईं थी। ऐसे में पंत के बचपन के कोच तारक सिन्हा का मानना ​​है कि पंत की तुलना धोनी जैसे अनुभवी खिलाड़ी से करना गलत है। धोनी ने भी शुरू के मैचों में कई कैच और स्टंपिंग छोड़े थे।

PunjabKesari
एक वेबसाइट से बातचीत के दौरान कहा, 'यह तुलना सही नहीं है। धोनी की तरह ही पंत भी विकेटकीपर बल्लेबाज है। लेकिन ये तुलना जायज नहीं है। ऐसा करने से उस पर धोनी की तरह बनने का दबाव पड़ता है। वह अच्छा करता है जब उसका माइंड फ्री होता है।' सिन्हा ने आगे कहा 'दुनिया का कौन सा कीपर है जिसने कैच और स्टंपिंग नहीं छोड़ी है। यहां तक कि धोनी ने भी अपने शुरूआती करियर में कैच और स्टंपिंग छोड़ी थी। अच्छी बात ये है कि चयनकर्ता उसे प्रोत्साहन दे रहे हैं और एक सीजन के बाद ही ड्रॉप नहीं किया है। वह समय के साथ सीख रहा है।'

Sports

बता दें इस सीरीज का आखिरी और निर्णायक मुकाबला बुधवार को दिल्ली के फ़िरोज़ शाह कोटला मैदान में खेला जाएगा। ये विश्वकप से पहले वनडे क्रिकेट में पंत के पास अपने आप को साबित करने का आखिरी मौका होगा। दोनों देशों के बीच सीरीज 2-2 से ड्रा चल रही है। ऐसे में जो ये मैच जीतेगा सीरीज उसी के नाम होगी। इस से पहले ऑस्ट्रेलिया भारत को 2 मैचों की टी20 सीरीज में क्लीनस्वीप कर चुका है।

.
.
.
.
.