Sports

मुंबई : मुंबई इंडियंस की मालिक नीता अंबानी ने इंडियन प्रीमियर लीग 2022 के लिए जोफ्रा आर्चर के उपलब्ध नहीं होने के बावजूद इंग्लैंड के इस तेज गेंदबाज को 8 करोड़ रुपए की भारी भरकम राशि में खरीदने के बाद कहा कि उनकी टीम का ‘हमेशा लघुकालीन लक्ष्य और दीर्घकालीन विजन' होता है। 

आर्चर दाईं कोहनी की सर्जरी से उबर रहे हैं लेकिन इसके बावजूद पांच बार के चैंपियन मुंबई इंडियन्स ने नीलामी के दूसरे दिन रविवार को इंग्लैंड के इस तेज गेंदबाज के लिए बड़ी बोली लगाई जबकि राजस्थान रॉयल्स और सनराइजर्स हैदराबाद भी बोली लगाने से पीछे नहीं हटे। इससे जाहिर होता है कि फ्रेंचाइजी की नजरें दीर्घकालीन योजना पर टिकी हैं फिर इसके लिए भले ही आगामी सत्र में उन्हें आर्चर के बिना खेलना पड़े। 

नीता ने नीलामी के बाद कहा कि मुंबई इंडियंस का हमेशा लघुकालीन लक्ष्य और दीर्घकालीन विजन होता है। हमने जो खिलाड़ी खरीदे हैं उनमें से कुछ दीर्घकालीन विजन को देखते हुए खरीदे गए हैं। हमें हमारे प्रशंसकों को आश्वस्त करना था कि नीलामी में हमने अपना सर्वश्रेष्ठ किया और खिलाड़ियों को ध्यान में रखते हुए हमें उम्मीद है कि हम अच्छा खेलकर अपने प्रशंसकों को खुश कर पाएंगे। पंजाब किंग्स ने इंग्लैंड के लियाम लिविंगस्टोन को 11 करोड़ 50 लाख रुपए में खरीदा लेकिन आर्चर का 8 करोड़ में बिकना हैरानी भरा था। कोहनी की सर्जरी से उबर रहे आर्चर को 2023 और 2024 में खेलने की संभावना को देखते हुए नीलामी में उतरने की स्वीकृति दी गई। 

युवा सलामी बल्लेबाज ईशान किशन को 15 करोड़ 25 लाख रुपए में खरीदने के बाद मुंबई ने टिम डेविड को उनके फिनिशिंग कौशल के कारण आठ करोड़ 25 लाख रुपये में खरीदा। इस साल की नीलामी के संदर्भ में नीता ने कहा कि मैं नए सत्र को लेकर रोमांचित हूं लेकिन मैं आपको बता दूं कि बड़ी नीलामी बेहद मुश्किल होती है। वर्षों से हमारे परिवार का हिस्सा रहे खिलाड़ियों को जाने देना बहुत मुश्किल होता है। हम उन सभी की कमी खलेगी। हार्दिक (पंड्या) हो या कृणाल (पंड्या) या फिर क्विंटन (डिकॉक) या (ट्रेंट) बोल्ट। हमने उन्हें दोबारा खरीदने का सर्वश्रेष्ठ प्रयास किया लेकिन नीलामी में क्या होगा इसकी भविष्यवाणी करना बेहद मुश्किल है। लेकिन हमें जो मिला हम उससे खुश हैं। 

.
.
.
.
.