Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : भारत ने ऑस्ट्रेलिया को उसी के घर में लगातार दूसरी बार टेस्ट सीरीज जीतकर हराकर इतिहास रच दिया है। भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया का घमंड तोड़कर अपने देश पहुंच चुकी है। भारत पहुंचने पर तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज एयरपोर्ट से सीधा अपने पिता की कब्र पर उन्हें श्रद्घांजली देने के लिए पहुंचे। इस दौरान मोहम्मद सिराज बहुत ही भावुक हो गए और उन्होंने अपने पिता को याद किया।

दरअसल मोहम्मद सिराज के पिता का निधन 20 नवंबर को हुआ था। लेकिन उस समय सिराज अपने पिता से दूर ऑस्ट्रेलिया में थे। कोविड-19 के सख्त नियमों के कारण वह अपने पिता के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो पाए। पिता के जाने के बाद मोहम्मद सिराज काफी दुखी हुए। लेकिन उन्होंने भारत के लिए टेस्ट डेब्यू कर अपने पिता का सपना पूरा किया। सिराज ने टेस्ट सीरीज के दौरान ऑस्ट्रेलिया के 13 खिलाड़ियों को आउट किया। उन्होंने ब्रिसबेन में 5 विकेट लेने के बाद अपने पिता को समर्पित किया था। 

मोहम्मद सिराज के भाई इस्माइल ने बयान दिया था कि उनके पिता चाहते थे कि सिराज भारतीय टीम के लिए टेस्ट मैच में प्रतिनिधित्व करे। वह सिराज को भारत के लिए एक दिन खेलते हुए देखना चाहते थे और उनका यह सपना पूरा हो गया है। भारतीय टीम की ऐतिहासिक जीत पर उन्होंने कहा कि हमें खुशी है कि उसने भारत की जीत में योगदान दिया।  

.
.
.
.
.